अखिल भारतीय नार्मदीय ब्राह्मण महासभा का मार्च में

अखिल भारतीय नार्मदीय ब्राह्मण महासभा का मार्च में

इटारसी। अखिल भारतीय नार्मदीय ब्राह्मण महासभा का 17वाँ अधिवेशन 25 एवं 26 मार्च को इटारसी के सांईकृष्णा परिसर में होगा। महाअधिवेशन के लिए आयोजन के मुख्य सूत्रधार इटारसी इकाई की बैठक श्री दुर्गा नवग्रह मंदिर में संपन्न हुई। जिसमें आयोजन के संयोजक श्रीमती जया पाराशर, आयोजन अध्यक्ष प्रमोद पगारे, इटारसी इकाई अध्यक्ष दिनेश बिल्लौरे, सचिव सतीश पाराशर, कोषाध्यक्ष राजेंद्र पाराशर, महिला मंडल सचिव श्रीमती वंदना शर्मा, समाज के वरिष्ठजन शंकरलाल पारे, अशोक पाराशर, अनिल जोशी, बालकृष्ण जोशी, भाष्करराव चंद्रे, युवा मंडल अध्यक्ष शुभम चंद्रे एवं शिवांशु पगारे, सत्यनारायण पाराशर, नीरज पगारे, राजेंद्र शर्मा, श्रीमती लीला जोशी आदि उपस्थित थे।
महाअधिवेशन के लिए पीले चांवल एवं निमंत्रण देने का द्वितीय दौर शुक्रवार को प्रात: 8 बजे प्रारंभ होगा जिसमें टिमरनी एवं हरदा क्षेत्र के सामाजिक बंधुओं को आमंत्रण देने हेतु श्रीमती जया पाराशर के नेतृत्व में एक टीम प्रात: रवाना होगी।
25 एवं 26 मार्च के महाअधिवेशन के आयोजन में शुभारंभ के अवसर पर सामाजिक गुरुगादियों से आये गुरुजनों का पूजन अर्चन किया जायेगा। नर्मदाष्टक एवं गणगौर के नृत्यों से कार्यक्रम प्रारंभ होगा। आयोजन में प्रदेश के मुख्यपमंत्री शिवराज सिंह चौहान, विधानसभा अध्यक्ष डा. सीतासरन शर्मा, भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नंद कुमार चौहान एवं प्रदेश के प्रमुख मंत्रियों को आमंत्रित करने हेतु पत्र भेजे जायेंगे।
इस अवसर पर एक स्मारिका का प्रकाशन भी होगा जिसमें महासभा की समस्त गतिविधियां प्रकाशित की जावेंगी। स्मारिका के लिए केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र, गुजरात के मुख्यवमंत्री विजय रूपला एवं मप्र विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा का बधाई संदेश प्राप्त हो चुका है। आज की बैठक में बताया गया कि इटारसी की समस्त निजी होटलों एवं धर्मशालाओं तथा सांई कृष्णा परिसर में आवास की विशेष व्यवस्था की जा रही है। लगभग ढाई हजार प्रतिनिधि आयोजन में शामिल होने की संभावना प्रथम चरण में दिखाई दे रही है। नार्मदीय ब्राह्मण समाज के महाधिवेशन की मुख्यो सूत्रधार इटारसी, खिरकिया, हरदा, टिमरनी, सिराली, होशंगाबाद, सिवनी मालवा, के द्वारा आयोजन को बेहतर बनाने के लिए निरंतर कार्य किये जा रहे हैं। निमाड़ के विवाह एवं शुभ कार्यों में उपयोग किये जाने वाले माणवे देश के कई राज्यों से बनाकर महिला प्रतिनिधि लेकर आ रही है। गुजरात इकाई का गरबा एवं मुंबई का लावणी एवं हरदा जिले का गणगौर आयोजन का मुख्यि आकर्षण रहेगा। आभार प्रदर्शन सचिव सतीश पाराशर ने किया।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: