अधिवक्ताओं ने की नारेबाजी, एसडीएम से विरोध जताया

इटारसी। आज इटारसी अभिभाषक संघ के एक सदस्य को एसडीएम कोर्ट से एक पुलिस कर्मी द्वारा बाहर कर देने की घटना को अधिवक्ता संघ ने गंभीरता से लिया है। अधिवक्ता के आवेदन पर संघ ने बैठक बुलायी और घटना पर निंदा प्रस्ताव पारित किया। इसके अलावा देर शाम तक एसडीएम कोर्ट चालू रहने का विरोध कर समयसीमा निर्धारित करने की मांग की।
अधिवक्ता संघ के सदस्यों ने एसडीएम कार्यालय के समक्ष नारेबाजी की और एसडीएम से हिमांशुचंद्र से मिलकर बुधवार की घटना पर विरोध दर्ज कराया। अधिवक्ता रवि सावदकर की शिकायत थी कि एक पक्षकार की पैरवी करते वक्त उनको एक सिपाही के माध्यम से एसडीएम ने कोर्ट से बाहर करा दिया था।
जब अधिवक्ता नारेबाजी करके वापस आने लगे तो एसडीएम हिमांशुचंद्र आ गए। अधिवक्ताओं ने बुधवार की घटना पर चर्चा करके कहा कि सम्मान आपको भी चाहिए, सम्मान हमें भी चाहिए, बुधवार को साथी अधिवक्ता से जैसा बर्ताव हुआ है, उससे सारे अधिवक्ता काफी आहत हैं। अधिवक्ताओं की बात सुनकर एसडीएम ने ऐसी घटना से इनकार कर कहा कि इतने सभी अधिवक्ताओं में से कोई भी एक यह कह दे कि मैंने उनसे बदतमीजी की, ऊंची आवाज में बात की या असम्मान किया है। उन्होंने कहा कि उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया है।
संघ के सचिव पारस जैन ने बताया कि अब संघ का एक प्रतिनिधिमंडल कलेक्टर अविनाश लवानिया और कमिश्वर उमाकांत उमराव से मिलने जाएगा। अधिवक्ताओं की यह भी शिकायत थी कि एसडीएम हिमांशुचंद्र देर शाम 7 बजे और कभी-कभी 8 बजे तक कोर्ट लगाते हैं। दिन में कहीं कोई शासकीय कार्य से जाने के बाद शाम को लौटने पर कोर्ट लगाते हैं, शाम तक अधिवक्ता और पक्षकार को कोर्ट में इंतजार करना पड़ता है, इस पर एसडीएम ने कहा कि कोर्ट का समय निर्धारित करेंगे।

CATEGORIES
TAGS
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW