आदेश हवा में, दूसरे दिन भी निकले विसर्जन जुलूस

इटारसी। शांति समिति में सख्त आदेश के बावजूद कुछ गणेश उत्सव समितियों ने इस आदेश को हवा में उड़ाते हुए 13 सितंबर को भी विसर्जन जुलूस निकाला। सार्वजनिक पंडालों में स्थापित गणेश प्रतिमाओं को अनेक समितियों ने 13 सितंबर को विसर्जित किया। इस दौरान जुलूस भी निकाले गये, जबकि पुलिस और नगर प्रशासन का आदेश था कि मूर्ति विसर्जन 12 सितंबर को हर हाल में किया जाए।
श्री गणेश महोत्सव के अंतर्गत शांति समिति की बैठक के बाद नगर पुलिस ने थाना परिसर में शहर की सभी सार्वजनिक उत्सव समितियों की बैठक भी ली थी। इस बैठक में टीआई राघवेन्द्र सिंह और एसडीओपी उमेश द्विवेदी ने स्पष्ट निर्देश दिये थे कि प्रतिमाओं का विसर्जन सिर्फ और सिर्फ अनंत चतुर्दशी के एक दिन 12 सितंबर को ही करना होगा। जो भी समिति आदेश का उल्लंघन करेगी और अनंत चतुर्दशी के बाद मूर्ति विसर्जन किया जाएगा तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पुलिस के इस आदेश को नजरअंदाज करके शहर की अनेक समितियों ने 13 सितंबर को भी पूरे दिन प्रतिमाओं का विसर्जन जुलूस निकालकर किया। प्रतिमाओं के इस विसर्जन जुलूस के कारण बाजार क्षेत्र के मुख्य मार्गों के साथ ही नयायार्ड सड़क मार्ग पर जगह-जगह यातायात बाधित हुआ और जब मेहरागांव नदी पर मूर्तियों का विसर्जन किया गया तब वहां सुरक्षा इंतजाम के तहत पुलिस नहीं थी।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW