आधी फसल चौपट, 16 को धरना देंगे किसान

होशंगाबाद। जिले में अत्यधिक जलभराव के कारण सोयाबीन की फसल नष्ट होने की कगार पर पहुंच गई है लगभग 50 फीसदी नुकसान तो हो चुका है किसान मायूस है और जिम्मेदार पल्ला झाड़ रहे हैं। जिले में इफको टोकियो कंपनी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की एजेंसी है, जिसने किसानों के हितार्थ टोल फ्री नंबर तो जारी किया है, परंतु उस नंबर पर कोई फोन उठाने के लिए उपलब्ध नहीं है और किसान परेशान हैं। जिला मंत्री भारतीय किसान संघ, संतोष पटवारी ने कलेक्टर होशंगाबाद से इस बात की शिकायत की है। कलेक्टर ने बीमा कंपनी से बात करने का आश्वासन दिया है।
ज्ञातव्य हो कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में जलभराव की स्थिति में नष्ट हुई फसल पर व्यक्तिगत क्षतिपूर्ति का प्रावधान किसानों के लिए है जिसके अंतर्गत प्रभावित किसान 72 घंटे के अंदर बीमा कंपनी को सूचना दिए जाने के लिए बाध्य है। इसके बाद बीमा कंपनी अपनी टीम भेजकर फसल नुकसानी का सर्वे कराती है। लेकिन बीमा कंपनी को किसानों की ओर देखने की फुर्सत नहीं है। किसानों का कहना है कि बीमा कंपनी को तो सिर्फ अपने अंश से मतलब है, जो वह पहले ही काट लेती है। जिले के किसानों में बीमा कंपनियों की इस मनमानी के खिलाफ आक्रोश बढ़ता जा रहा है। भारतीय किसान संघ के मीडिया प्रभारी शिव मोहन सिंह ने बताया कि संघ ने सोमवार 16 सितंबर को स्थानीय पीपल चौक पर धरने प्रदर्शन का कार्यक्रम आयोजित किया है, जिसमें किसान प्रतिनिधि किसानों की बर्बाद हुई फसलों बाबत जानकारी जिला प्रशासन को उपलब्ध कराएंगे। इसके साथ ही संबंधित बीमा कंपनी के खिलाफ सख्त कार्रवाई किए जाने की मांग करेंगे।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW