आरोपी बैंक कैशियर (ICICI Bank Cashier) गिरफ्तार. है गोलमाल का मामला

आरोपी बैंक कैशियर (ICICI Bank Cashier) गिरफ्तार. है गोलमाल का मामला

आईसीआईसीआई बैंक( ICICI Bank Tikhad Branch) की तीखड़ शाखा में गोलमाल का मामला
इटारसी। पुलिस ने आईसीआईसीआई बैंक की तीखड़ शाखा ( ICICI Bank Tikhad-Jamani Branch) में ग्राहकों के पैसों में हेरफेर करने के दो आरोपियों में से एक कैशियर (Bank Cashier) को आज गिरफ्तार कर लिया है। उसे इटारसी में मालगोदाम रोड से मुखबिर की सूचना पर पकड़ा है। मुख्य आरोपी बैंक का शाखा प्रबंधक (Bank Manager)अभी फरार है और पुलिस ने उसको पकडऩे के लिए कई जगह छापामारी की है, लेकिन फिलहाल वह गिरफ्त से बाहर है।


पथरोटा पुलिस के अनुसार कैशियर की गिरफ्तारी इटारसी में मालगोदाम रोड से हुई है, जबकि ब्रांच मैनेजर (Bank Manager)के लिए गोवा, उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश के उसके कई ठिकानों पर छापामारी की गई है। मूलत: छतरपुर मप्र का रहने वाला बैंक मैनेजर कुलदीप यदुवंशी (Bank Manager Kuldeep Yaduwanshi)फरार है जबकि कैशियर सूरजसिंह राजपूत (ICICI Bank Cashier Suraj Singh Rajput)निवासी ढाबाकलॉ को आज गिरफ्तार किया है। पथरौटा पुलिस (Pathrota Police) ने कैशियर सूरज पिता प्रकाश सिंह राजपूत (ICICI Bank Cashier Suraj Singh Rajput) उम्र 27 निवासी ढाबाकला को मंगलवार को कोर्ट में पेश किया जहां से एक दिन की रिमांड मिली है।

1.67 करोड़ का मामला दर्ज है
आईसीआईसीआई बैंक की तीखड़-जमानी ब्रांच ( ICICI Bank Tikhad-Jamani Branch) में बैंक मैनेजर (Bank Manager)और कैशियर (Bank Cashier) द्वारा ग्राहकों के पैसों में 1.67 करोड़ की हेराफेरी का मामला पथरोटा थाने में दर्ज है। अभी 46 किसान सामने आये हंै और लगभग हर रोज किसान उनके साथ भी धोखाधड़ी होने के आवेदन लेकर पहुंच रहे हैं। फिलहाल 1 करोड़ 67 लाख 31 हजार 260 रुपए के मामले में दोनों आरोपियों पर धारा 409, 420 का प्रकरण पंजीबद्ध है। लेकिन, किसानों के आवेदन की जांच पड़ताल के बाद गबन की गई राशि बढ़ सकती है और धाराओं में भी इजाफा हो सकता है।


पासबुक में नहीं करते थे एंट्री
दोनों ने काफी शातिरपन दिखाया था। किसानों को उनके इस कारनामे की भनक न लगे, अत: वे कोई न कोई बहाना बनाकर पासबुक में एंट्री नहीं करते थे। लॉकडाउन (Lockdown) का फायदा उठाकर ठगी को अंजाम दिया। लॉकडाउन में ग्रामीण घर से नहीं निकले। दोनों ने फर्जी साइन कर 45 से अधिक किसानों के खातों से 1 करोड़ 67 लाख 31 हजार 260 रुपए निकाले। ब्रांच में पासबुक एंट्री नहीं की ताकि ग्रामीणों को गोलमाल की भनक न लगे। एंट्री के लिए किसानों से इटारसी ब्रांच जाने को कहते थे। लॉकडाउन में किसान इटारसी आने में कतराते थे।

कई जगह दी गई दबिश
बैंक मैनेजर कुलदीप यदुवंशी ( ICICI Bank Manager Kuldeep Yaduwanshi) को पकडऩे के लिए पथरोटा पुलिस (Pathrota Police) की टीम ने उस हर स्थान पर छापामारी की जहां उसके होने का अंदेशा था। पुलिस ने उसके छतरपुर स्थित घर के अलावा, उसकी ससुराल, हमीरपुर, ननिहाल कानपुर, गोवा में भी रिश्तेदारी होने पर वहां भी दबिश दी है। लेकिन, शातिर कुलदीप यदुवंशी इन सभी स्थानों पर पुलिस के हाथ नहीं लगा है। यानी मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश और गोवा में उसके होने की उम्मीद पर पुलिस को निराशा हाथ लगी है, लेकिन पथरोटा पुलिस (Pathrota Police)का मानना है कि जल्द ही उसकी गिरफ्तारी हो जाएगी।

इस टीम ने की मेहनत
पथरोटा थाना प्रभारी प्रज्ञा शर्मा (Pragya Sharma, Thana Prabhari Pathrota) के नेतृत्व में टीम में शामिल एएसआई भोजराज बरबड़े (ASI BHojraj Barbade), आरक्षक विनोद टिल्लू, एसआई सरोदे व अन्य ने काफी मेहनत की है। सूरज सिंह राजपूत (Suraj Singh Rajput) की गिरफ्तारी में टीम का योगदान रहा है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए भी टीम ने काफी भागदौड़ की है। इसमें सिटी पुलिस का भी योगदान रहा है। इटारसी में कुलदीप (Kuldeep) वीआईपी एस्टेट में किराये से रहता था। जब पुलिस ने खोजबीन प्रारंभ की तो उसने उस मकान से सामान लेकर चंपत होने का प्रयास किया। मौके पर पुलिस पहुंच गयी तो प्रयास सफल नहीं हो सका।

इनका कहना है…!

एक आरोपी कैशियर (ICICI Bank Cashier) को गिरफ्तार किया है, बैंक मैनेजर (ICICI Bank Manager) की गिरफ्तारी के लिए उसके घर दो बार दबिश दी है। उसके रिश्तेदारों के यहां भी पुलिस पहुंची है। लेकिन, वह वहां भी नहीं मिला है। 1.67 करोड़ का मामला दर्ज है। अभी और भी किसान आवेदन लेकर आ रहे हैं, आगे जांच के बाद राशि बढ़ सकती है।
प्रज्ञा शर्मा, थाना प्रभारी पथरोटा (Pragya Sharma, Thana Prabhari Pathrota)

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: