आर्डनेंस फैक्ट्री की टंकी में मिला मगरमच्छ का बच्चा

इटारसी।आर्डनेंस फैक्ट्री परिसर की टंकी में फिर एक मगरमच्छ का बच्चा मिला है। सर्प मित्र अभिजीत यादव की मदद से वन विभाग के अमले ने उसे दोपहर बाद पकड़कर तवा जलाशय में छोड़ा है। इससे पहले भी यहीं की एक टंकी में मगरमच्छ का बच्चा मिल चुका है। इन टंकियों में मगरमच्छ के बच्चे कैसे आ रहे हैं, यह रहस्य है। संभावना व्यक्त की जा रही है कि रेत में इनके अंडे आए होंगे।
सर्पमित्र अभिजीत यादव ने बताया कि इससे पहले इसी वर्ष फरवरी में भी वे यहीं से एक मगरमच्छ का बच्चा पकड़कर तवा में छोड़ चुके हैं। आज आर्डनेंस फैक्ट्री में गार्ड ने सबसे पहले यहां इमरजेंसी के लिए बनी पानी की करीब दस फुट गहरी टंकी में करीब तीन फुट का मगरमच्छा का बच्चा देखकर अपने अधिकारियों को खबर की। अधिकारियों ने वन विभाग को सूचना दी तो विभाग के रेंजर लखनलाल यादव ने अपने स्टाफ और अभिजीत यादव को ले जाकर मगरमच्छ के बच्चे को पकड़वाया और उसे तवा में छोड़ा गया है।

ऐसे आए होंगे मगरमच्छ के बच्चे
आर्डनेंस फैक्ट्री जंगल में है, यहां आसपास को नदी या बड़ा जलस्रोत भी नहीं है। टंकी भी जमीन पर बनी है, ऐसे में यहां मगरमच्छ के बच्चे आना गले नहीं उतर रहा है। अभिजीत का कहना है कि वहां के कर्मचारियों ने बताया कि यहां कंस्ट्रक्शन के लिए रेत आयी थी, माना जा रहा है कि रेत में ही मगरमच्छ के अंडे आए होंगे और टंकी में गिरे होंगे। समय के साथ अंडे फूटकर उससे अंडे निकले होंगे। हालांकि रेंजर एलएल यादव का कहना है कि आर्डनेंस फैक्ट्री परिसर से कुछ बरसाती नाले भी निकले हैं जिनका कनेक्शन तवा से है, संभव है कि तेज बारिश में यहां से निकलने वाले पानी के माध्यम से यह यहां तक पहुंचे हों और टंकी में गिर गए हों।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: