उपभोक्ता संरक्षण मंच की बैठक में अनेक निर्णय

इटारसी। उपभोक्ता संरक्षण मंच की बैठक का आयोजन गांधी वाचनालय परिसर में हुआ। बैठक में उपस्थित सदस्यों से उपभोक्ताओं के ज्वलंत मुद्दों पर विचार-विमर्श कर महत्वपूर्ण निर्णय लिय एवं इन्हें क्रियान्वयन कराने के लिए एसडीओ राजस्व, एसडीओ पुलिस एवं सीएमओ इटारसी को ज्ञापन सौंपने पर सहमति बनी।
मंच सचिव राजकुमार दुबे ने कहा कि 4 माह के अंदर सांची दूध के दामों में दोबारा बढ़ोतरी करना गरीब एवं मध्यम वर्ग के साथ आर्थिक अन्याय है। दूध वृद्धों, बच्चों एवं रोगियों का पोषण आहार है। इसे शासन को दाम बढ़ोतरी से अलग रखना चाहिए। नगर पालिका अधिकारी को शहर में चल रहे सफाई वाहनों के सह चालकों को घर के सामने रखे कचरे के डिब्बों को उठा कर कचरा गाड़ी में डालने की भी जिम्मेदारी देनी चाहिए। भोपाल एवं जबलपुर में सहचालक ये कार्य कर रहे हैं। शहर के ओवरब्रिज की क्षतिग्रस्त सड़कों को तत्काल सुधारना चाहिए। सड़क के गड्ढों से वाहन क्षतिग्रस्त हो रहे हैं एवं वाहन चालक घायल हो रहे हैं। बाजार में फुटकर फल विक्रेताओं के हाथ ठेलों को फल बाजार में शिफ्ट करने की पहल होना चाहिए। दीपावली त्योहार के पूर्व मिलावटी खाद्य दूध मिठाई मसालों आदि की जिला खाद्य विभाग को सघन जांच कराना चाहिए। सिंगल यूज़ प्लास्टिक को निर्माण करने वाले कारखानों को बंद करने की कोशिश की जाना चाहिए।
इसी तरह से सड़कों पर बैठ रहे आवारा पशुओं की रोकथाम का प्रयास नगर पालिका एवं यातायात पुलिस को करना चाहिए। ये आवारा पशु यातायात में बाधक बनने के साथ दुर्घटना के कारण बन रहे हैं। व्यस्ततम चौराहों पर तत्काल सीसीटीवी कैमरे लगना चाहिए ताकि अपराधों पर अंकुश लगे। रेलवे प्लेटफार्म 3 पर लिफ्ट की सुविधा होनी चाहिए एवं 12 बंगला तरफ उतरने वाले भाग में एस्केलटर की सुविधा होना चाहिए। रेस्ट हाउस को तहसीलदार कार्यालय क्षेत्र में स्थानांतरित कर, इस बड़े भूभाग को वाहनों के पार्किंग स्थल एवं त्योहारी बाजार के लिए सुरक्षित करना चाहिए। बैठक में रामविलास चौरे, डॉ. जेपी चौरे, नर्मदा प्रसाद मिश्रा, जीपी दीक्षित, सुनील दुबे, हेमंत भट्ट, मनोज गुलबाके, एके दुबे एवं हर्ष शर्मा ने भी विचार रखे। संगठन के सदस्य शीघ्र ही संबंधित अधिकारियों को समस्याओं का समधान कराने के लिए ज्ञापन सौंपेंगे।

CATEGORIES
TAGS
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW