ऐसे ही बारिश हुई तो खोले जा सकते हैं बांध के गेट

इटारसी। पहाड़ों पर लगातार बारिश हो रही है। बैतूल जिले में भी बारिश के बाद सारणी डेम का पानी तवा में छोड़ा जा रहा है। उससे तवा के जलसंग्रह क्षेत्र में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। तवा में पानी आने की रफ्तार तेज है। सारणी के सतपुड़ा बांध से सात गेट तीन-तीन फुट खोलकर करीब 17,900 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। हर घंटे करीब एक पाइंट जलस्तर बढ़ रहा है और तवा में 46 हजार क्यूसेक पानी आ रहा है। ऐसे में बांध प्रबंधन गेट खोलने पर विचार कर सकता है। 15 अगस्त तक बांध में 1160 फीट का जलस्तर रखना है और वर्तमान में जलस्तर 1155 को पार कर गया है। तवा में इनफ्लो तेज होने से माना जा रहा है कि पंद्रह अगस्त से पहले 1160 फीट को पानी पार कर जाएगा। यदि इस स्तर पर पानी पहुंचा और पानी आने की रफ्तार भी ऐसी ही रही तो फिर दो दिन में या उससे भी पहले बांध के गेट खोले जा सकते हैं।
वर्तमान में तवा डैम का जलस्तर दोपहर 3 बजे की स्थिति में 1155.20 है। तवा बांध में 15 अगस्त तक 1160 फिट पानी का जलस्तर रखना है। इस तरह देखें तो तवा बांध में लगभग 5 फीट पानी 15 अगस्त तक निर्धारित जलस्तर से कम है। पहाड़ों और तवा के जल संग्रहण क्षेत्र में हो रही बारिश को देखते हुए 15 अगस्त तक यह लेबल प्राप्त किया जा सकेगा, ऐसी उम्मीद है। समय-समय पर सारणी के सतपुड़ा डैम के गेट खोलकर पानी छोड़ा जा रहा है, जो तवा के जल संग्रहण क्षेत्र में आ रहा है। उम्मीद है कि इस बार तवा बांध लबालब रहेगा और रबी फसल के लिए किसानों को पर्याप्त पानी प्राप्त हो सकेगा। बीते 24 घंटे में पहाड़ों और तवा के जल संग्रहण क्षेत्र में हुई बारिश तथा पचमढ़ी में भी बारिश हो रही है। यह पानी भी तवा बांध में ही संग्रह हो रहा है। मौसम विभाग के अनुसार आगामी 48 घंटे में प्रदेश में अतिवृष्टि का अनुमान है भारी से अधिक भारी बारिश के पूर्वानुमान के कारण उम्मीद की जा रही है कि क्षेत्र में भी काफी वर्षा होगी और तवा डैम का निर्धारित जलस्तर प्राप्त किया जा सकेगा। सूत्रों के अनुसार निर्धारित पानी की मात्रा होने के बाद भी यदि पानी आता रहा तो निश्चित ही डैम के गेट खोले जा सकते हैं।

लगातार बारिश ने बांधी उम्मीदें
जिले में पिछले एक पखवाड़े से हो रही बारिश ने किसानों की उम्मीदें दोगुनी कर दी हैं तो पहाड़ों पर हो रही मूसलाधार बारिश ने तवा बांध के कृत्रिम जलप्रपात का नजारा देखने वालों की उम्मीदें जिंदा कर दी हैं। मानसून की देरी ने सबको मायूस कर दिया था लेकिन देर से सही लेकिन दुरुस्त आए मानसून ने सबके चेहरे खिला दिये हैं। मौसम विभाग ने प्रदेशभर में अगले 48 घंटे और भारी बारिश होने की चेतावनी दी है। ऐसे में बांध के गेट खुलने की संभावना भी बढ़ रही है। बांध प्रबंधन भी लगातार बढ़ते जल स्तर को देखते हुए अपनी तैयारी पूरी कर चुका है। जैसे ही जलस्तर निर्धारित आंकड़े को पार करेगा और इन्फ्लो भी तेज रहेगा तो तवा नदी के आसपास के गांवों में सतर्क रहने के लिए मुनादी करा दी जाएगी। बांध प्रबंधन ने तेजी से बढ़ रहे जलस्तर को देखते हुए उच्च कार्यालय को विज्ञप्ति भेज दी है। तवा किनारे बसे गांवों को अलर्ट जारी कर किया जा सकता है।

इनका कहना है…!
इस वर्ष अच्छी बारिश हो रही है। पिछले वर्ष कम बारिश को देखते हुए तवा में निर्धारित लेबल को मेन्टेन रखना है। अभी कैचमेंट एरिया और बैतूल, पचमढ़ी में अच्छी बारिश हो रही है। इन्फ्लो भी ज्यादा है। ऐसा ही चलता रहा तो दो दिन में गेट खुलने की संभावना बन सकती है।
एनके सूर्यवंशी, एसडीओ तवा

तवा में हर घंटे बढ़ रहा एक पाइंट पानी
तवा बांध में आज सुबह से जलस्तर में करीब एक पाइंट का इजाफा हो रहा था। सुबह 7 बजे तवा का जलस्तर 1154.70 था तो सुबह 9 बजे 1154.80, सुबह 10 बजे 1154.90, दोपहर 12 बजे 1155, दोपहर 2 बजे 1155.10, दोपहर 3 बजे 1155.20, शाम 4 बजे 1155.30, शाम 6 बजे 1155.50 रहा।
तवा में सारणी डेम से भी पानी छोड़ा जा रहा है। सुबह 7:30 बजे की स्थिति में सारणी बांध के 3 गेट 1 फुट खोले थे जिससे 2600 क्यूसेक पानी तवा में छोड़ा जा रहा था। सुबह 10:30 बजे 5 गेट 1 फुट थे तो डिस्चार्ज 2945 क्यूसेक था। सुबह 11 बजे भी 5 गेट 2 फुट खुले थे जिनसे डिस्चार्ज 8590 क्यूसेक था और दोपहर 1:30 बजे 5 गेट एक फुट करके डिस्चार्ज 4295 क्यूसेक कर दिया था।
दोपहर 3 बजे 7 गेट, तीन फुट खुले थे, डिस्चार्ज 17, 920 क्यूसेक था। दोपहर 3: 30 बजे 7 गेट 5 फुट तक खुले और डिस्चार्ज 28 हजार क्यूसेक था। शाम 4:30 बजे 7 गेट तीन फुट तक खुले, डिस्चार्ज 17,920 क्यूसेक था। इधर तवा में देनवा नदी से इन्फ्लो शाम 4:30 बजे 19041 क्यूसेक था।
सुबह 6-9 बजे क्षेत्र में बारिश नहीं हुई जबकि पचमढ़ी में 9.4 मिलीमीटर थी। इसी तरह से सुबह 9-12 बजे के बीच तवा 1.4 मिलीमीटर, पचमढ़ी 5.2 मिलीमीटर, दोपहर 12-3 के बीच तवा में 8.8 मिलीमीटर, पचमढ़ी 41.8 मिलीमीटर और शाम 4-6 के बीच तवा में 34.4 मिलीमीटर और पचमढ़ी 7.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी।

सुरक्षित स्थानों पर जाने की अपील
कार्यपालन यंत्री तवा परियोजना संभाग इटारसी आईडी कुम्हरे ने अवगत कराया है कि गुरूवार 8 अगस्त को दोपहर 12 बजे तवा बांध का जल स्तर 1155 फीट हो गया है और उपरी क्षेत्र में वर्षा होने के कारण बांध के जल स्तर में लगातार वृद्धि हो रही है और वर्तमान में वर्षा की संभावना को देखते हुए आगामी 2-3 दिनों में बांध का जल स्तर 1160 फीट होने की संभावना है। नियमानुसार 15 अगस्त की स्थिति में बांध का जल स्तर 1160 फीट रखा जाना निर्धारित है। यदि 15 अगस्त से पूर्व बांध का जल स्तर 1160 फीट होता है, तो तवा बांध के गेटों से पानी छोड़ा जाना संभावित है। ऐसी स्थिति निर्मित होने की संभावना को ध्यान में रखते हुए कार्यपालन यंत्री तवा परियोजना संभाग इटारसी ने तवा बांध एवं तवा नदी के पानी से प्रभावित होने वाले दोनो तटीय क्षेत्रों में निवासरत लोगों से अपील की गई है कि वे तटीय क्षेत्रों से दूर सुरक्षित स्थान पर रहे और नदी के बहाव क्षेत्रों में किसी भी प्रकार की गतिविधि ना करें।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW