कंटेन्मेंट जोन की होगी सीसीटीवी कैमरों से निगरानी

कंटेन्मेंट जोन की होगी सीसीटीवी कैमरों से निगरानी

इटारसी। – एक किमी एरिया कंटेनमेंट एरिया घोषित
– तीन किमी तक की सीमा बफर ज़ोन घोषित
– वाहनों का आवागमन एवं सोशल गैदरिंग निषेध
नगर में कोरोना संक्रमण के प्रकरण मिलने के उपरांत कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी धनंजय सिंह के निर्देश पर एसडीएम हरेंद्र नारायण ने क्षेत्र में क्लस्टर कंटेनमेंट प्लान प्रभावशील किया है। इटारसी में देशबंधुपुरा, जीन मोहल्ला, हाजी मोहल्ला को कंटेनमेंट जोन चिन्हित किया है।
पॉजिटिव पाए गए मरीजों के घरों को एपीसेंटर घोषित करते हुए इन घरों से 1 किलोमीटर की परिधि में आने वाले क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है तथा इससे लगे 3 किलोमीटर की परिधि के अतिरिक्त क्षेत्र को बफर जोन घोषित किया है। कंटेनमेंट जोन में सामाजिक वाहनों का आवागमन एवं सोशल गैदरिंग पूर्णता निषिद्ध है। कंटेन्मेंट जोन के अंतर्गत पूर्ण रूप से आवागमन प्रतिबंधित रहेगा तथा समस्त निवासियों का होम क्वारेंटाइन में रहना अनिवार्य होगा।


तीसरी आंख से होगी निगरानी
तीनों कंटेन्मेंट जोन की निगरानी सीसीटीवी कैमरों से होगी। नगर पालिका प्रशासन ने तैयारी शुरु कर दी है। शहर के अन्य इलाके भी सीसीटीवी की जद में होंगे। सीएमओ सीसीटीवी कैमरे द्वारा कंटेनमेंट जोन में आवाजाही न हो इसकी निगरानी सुनिश्चित करेंगे। जोन के निकट 3 किमी परिधि को बफर जोन के रूप में चिन्हांकित किया जाएगा।

कंटेंन्मेंट जोन पर सख्त निगाह
प्रशासन की सख्त निगाह शहर में बनाये गये कंटेन्मेंट जोन पर है। तहसीलदार तृप्टि पटेरिया, ऋतु भार्गव, टीआई दिनेश सिंह चौहान सहित पुलिस अफसरों ने तीनों कंटेन्मेंट जोन देशबंधुपुरा, जीन मोहल्ला और हाजी मंजिल का निरीक्षण कर मौके पर तैनात टीम को सख्त निर्देश दिये कि इन क्षेत्रों में किसी भी स्थिति में कोई प्रवेश न करने पाये।

ड्रोन से होगी निगरानी
प्रशासन ने हाजी मोहल्ला क्षेत्र में सहित अन्य कंटेन्मेंट क्षेत्र में ड्रोन से निगरानी की तैयारी पूरी कर ली है। इसके लिए पुलिस थाने के बगल में बने शहरी आजीविका केन्द्र में कंट्रोल रूम बनाया गया है। प्रशासन इन कंटेन्मेंट क्षेत्रों में ड्रोन में कैमरों की मदद से निगरानी कर देखेगा कि लॉक डाउन में प्रभावित क्षेत्रों में पालन किया जा रहा है या नहीं।

तीन किमी पैरामीटर कंट्रोल
जोन के 3 किमी में पैरामीटर कंट्रोल होगा। आवश्यक सुविधा के अतिरिक्त आवागमन पूर्णता निषिद्ध होगा। होम क्वारेंटिइन लोगों की कम्युनिटी सर्विलेंस से मॉनिटरिंग हो रही है। होम क्वारेंटिइन में कोरोना लक्षण होने पर मेडिकल मोबाइल यूनिट घर जाकर जांच करेगी। जरूरी होने पर मेडिकल मोबाइल यूनिट या रैपिड रिस्पॉन्स टीम जांच सैंपल लेंगे।

रहवासियों पर निगरानी
जोन के एंट्री-एग्जिट प्वाइंट पर स्वास्थ्य अमला पैरामीटर कंट्रोल से वाहनों की स्क्रीनिंग एवं 1 प्रतिशत सोडियम हाइपोक्लोराइट सॉल्यूशन द्वारा डिसइनफेक्ट करेगा। मोबाइल एवं आरआरटी कांटेक्ट ट्रेसिंग, एडवांस कांटेक्ट ट्रेसिंग संक्रमित के संपर्क के लोगों से पूछताछ करेगी। फस्र्ट कांटेक्ट की जो आरआरटी/मोबाइल यूनिट करेगी।

धार्मिक स्थलों में भीड़ न हो
नर्मदापुरम संभाग के कमिश्नर रजनीश श्रीवास्तव ने संभाग के तीनों जिले के कलेक्टरों को निर्देशित किया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के दृष्टिगत धार्मिक स्थलों पर लोगों के एकत्र होने पर रोक है। अत: सभी कलेक्टर सुनिश्चित करे कि वे अपने क्षेत्र में सभी धार्मिक स्थलों में किसी भी तरह लोगों को एकत्र न होने दें।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: