किसान ऋण मुक्ति का शुभारंभ 22 फरवरी से

इटारसी। जयकिसान ऋण माफी योजना के विषय में चल रही कवायदों के बची कांग्रेस ने अब इसके विषय में किसानों को अवगत कराने अपने प्रवक्ताओं के माध्यम से प्रेस के जरिए बात पहुंचाने का अभियान शुरु किया है। गुरुवार को ईश्वर रेस्टॉरेंट में मप्र कांग्रेस के प्रवक्ता अब्बास हफीज ने प्रदेश प्रवक्ता राजकुमार उपाध्याय और संभागीय प्रवक्ता अशोक जैन के साथ मीडिया को योजना से जड़ी बातें बतायीं।
मप्र कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता अब्बास हफीज ने ईश्वर रेस्टॉरेंट में आज एक पत्रकार वार्ता में बताया है कि जय किसान ऋण माफी योजना के अंतर्गत 22 फरवरी से प्रदेश के सभी किसानों को इस योजना का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा। योजना के तहत जो किसान 31 मार्च 2018 की स्थिति में फसली ऋण से ग्रस्त थे। उनका दो लाख तक का कर्ज माफ किया जा रहा है। वहीं 12 दिसंबर 2018 तक जिन किसानों ने अपना कर्ज चुका दिया है। उनको भी इस योजना का लाभ देते हुए उनके खातों में उनकी कर्ज के रूप में जमा की गई राशि प्रदाय की जाएगी। जितना उन्होंने अपना लोन चुका दिया है। इसके अलावा 1 अप्रैल 2007 से 31 मार्च 2018 तक कालातीत हो चुके ऋण को भी इस योजना में शामिल किया गया है।
श्री हफीज ने कहा कि देश में सबसे सस्ती बिजली मध्य प्रदेश के किसानों को कमलनाथ सरकार दे रही है। मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा किसानों के हक में क्रांतिकारी निर्णय लेते हुए यह तय किया गया है कि 10 हॉर्स पावर की तक के पंप वाले किसानों को बिजली की दरें आधी की जाएगी । जिसके तहत मध्य प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है जहां किसानों को सबसे सस्ती दर 44 पैसे प्रति यूनिट की दर से बिजली का बिल देना होगा। इस योजना से प्रदेश के करीब 19 लाख किसान लाभान्वित होंगे।

CATEGORIES
TAGS
Share This
error: Content is protected !!