कुशीनगर से क्यों उतारे आरपीएफ और जीआरपी ने यात्री

कुशीनगर से क्यों उतारे आरपीएफ और जीआरपी ने यात्री

इटारसी। गोखरपुर से लोकमान्य तिलक टर्मिनस को जाने वाली कुशीनगर एक्सप्रेस में किसी संदिग्ध के होने की सूचना के बाद यहां आरपीएफ, जीआरपी और सिटी पुलिस की संयुक्त टीम ने ट्रेन के इटारसी पहुंचने पर सघन तलाशी ली और संदिग्ध दिखने पर कुछ लोगों को उतारकर उनसे पूछताछ की है। हालांकि सुरक्षा एजेंसियों को कुछ हासिल नहीं हो सका है।
बताया जाता है कि रेलवे कंट्रोल रूप से सूचना आयी थी, जिस पर होशंगाबाद से ही एक विशेष टीम जांच करते हुए इटारसी तक आयी। कंट्रोल रूम की सूचना पर यहां भी आरपीएफ और जीआरपी हरकत में आई और इटारसी ट्रेन पहुंचने पर मिलकर ट्रेन में सघन जांच की गई।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कंट्रोल रूम को सूचना मिली थी की कोई संदिग्ध तरह की वस्तु लेकर ट्रेन में बैठा है। यह सूचना जब रेलवे कंट्रोल से होशंगाबाद और इटारसी सुरक्षा एजेंसियों को मिली तो आरपीएफ और जीआरपीएफ को अलर्ट कर इटारसी में जिस प्लेटफॉर्म पर ट्रेन आने वाली थी, वहां पहले से ही एजेंसियां सतर्क हो गईं और कुशीनगर ट्रेन के आते ही फोर्स ने उसमें तलाशी शुरु कर दी।
कुशीनगर में होशंगाबाद से भी एक विशेष जांच दल साथ आया था। टीम ने ट्रेन में अपराधियों की तलाश शुरू की, इटारसी स्टेशन आते ही यहां का भी पूरा फोर्स ट्रेन में चढ़ा और तलाशी प्रारंभ की। बताया जाता है की इटारसी स्टेशन पर जीआरपी ने कुछ युवकों को उतारा है, उन लोगों से पूछताछ की जा रही है। हालांकि अब तक पूछताछ में कुछ खास हासिल नहीं हुआ है।
इनका कहना है…!
कंट्रोल रूम से कुशीनगर एक्सप्रेस में कुछ संदिग्ध के होने की सूचना के बाद यहां जीआरपी और आरपीएफ ने जांच की है। कुछ संदिग्धों को यहां उतारकर पूछताछ की है।
बीएस चौहान, थाना प्रभारी जीआरपी

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW