क्यों देशभर में सराही जाएगी इटारसी मंडी ?

क्यों देशभर में सराही जाएगी इटारसी मंडी ?

आज पारित प्रस्ताव बोर्ड को भेजा जाएगा
इटासी। कृषि उपज मंडी समिति का आज पारित प्रस्ताव यदि मंडी बोर्ड ने मान लिया तो यह काफी कारगर होगा और देशभर में इसे लागू करके राष्ट्रीय कृषि बाज़ार के प्रति आकर्षित करने के लिए किसानों को प्रोत्साहन मिलेगा और किसानों को फायदा भी होगा। यह प्रस्ताव है, कृषि विपणन पुरस्कार की तरह ही राष्ट्रीय कृषि बाजार में क्रय-विक्रय के लिए ईनाम रखा जाए और जिस तरह से कृषि विपणन में बंपर ईनाम ट्रैक्टर दिया जाता है, इसमें भूसा मशीन दी जाए। इससे भूसा प्रबंधन के लिए भी प्रोत्साहन हो सकेगा। यानी एक पंथ दो काज़ वाली कहावत चरितार्थ हो जाएगी। यदि इसे बोर्ड ने माना तो यह प्रदेश स्तर पर लागू किया जा सकेगा और इसकी सफलता के बाद इसे देशभर में भी अपनाया जा सकता है।
कृषि उपज मंडी समिति की आज दोपहर यहां मंडी सभागार में हुई बैठक में सात प्रस्तावों पर चर्चा हुई। बैठक की अध्यक्षता मंडी अध्यक्ष विक्रम तोमर ने की। बैठक में सचिव सुनील गौर, अध्यक्ष प्रतिनिधि देवेन्द्र पटेल, हम्माल-तुलावटी प्रतिनिधि नर्बदा प्रसाद यादव कल्लू पहलवान, सदस्य पन्नालाल उईके, संगीता सोलंकी, सतीश मेहतो, कीर्ति वर्मा, जुमना बरखने, सीताबाई, सरताज चौधरी आदि मौजूद थे. सचिव श्री गौर ने बैठक के प्रारंभ में सदस्यों को एजेंडा पढ़कर सुनाया।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: