चक्काजाम के बाद चर्चा, खरीदी शुरू

इटारसी। कृषि उपज मंडी में दस दिनों से आए किसानों ने उनकी उपज की खरीद नहीं होने से परेशान होकर आज सुबह नेशनल हाईवे 69 पर चक्काजाम कर दिया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुचे एसडीएम आरएस बघेल, एसडीओपी अनिल शर्मा, तहसीलदार रितु भार्गव, टीआई विक्रम रजक ने पहुंचकर मोर्चा संभाला। करीब बीस मिनट चले चक्काजाम में सड़के दोनों तरफ दर्जनों वाहन रोक लिए गए थे। अधिकारियों ने सबसे पहले किसानों को समझाकर सड़क से मंडी के भीतर लाए, फिर उनकी बात सुनी गई। सुरक्षा के लिहाज से मंडी में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था।
उल्लेखनीय है कि मंडी में मूंग की उपज की खरीदी कर रहे व्यापारियों ने सोमवार को ही अल्टीमेटम दे दिया था कि ट्रांसपोटरों की हड़ताल के कारण वे मंडी में मंगलवार से मूंग की खरीदी नहीं कर पाएंगे। इसके बाद आज किसानों ने अपनी उपज की खरीद न होने से परेशान होकर चक्काजाम कर दिया। हालांकि किसानों को समझाईश के बाद एनएच 69 से हटा लिया गया है। मंडी कार्यालय के सभागार में किसानों और व्यापारियों को आमने-सामने बिठाकर अधिकारियों ने बातचीत की और व्यापारियों से मूंग खरीदी करने को कहा। कुछ शर्तों के साथ व्यापारियों ने मूंग की खरीद प्रारंभ कर दी है। व्यापारी किसान का माल तो खरीदेगा लेकिन भुगतान के लिए पंद्रह दिन का वक्त दिया है, जिस पर मौके पर मौजूद किसान भी सहमत हो गये हैं।


बता दें कि किसानों ने सोमवार को दोपहर में भी चक्काजाम की चेतावनी दी थी, तो प्रशासन ने व्यापारियों से बातचीत करके खरीद शुरु करायी थी। लेकिन शाम को नीलामी के बाद अचानक से मंडी प्रशासन ने किसानों को 6 बजे वापस घर जाने का कह दिया था, क्योंकि मंडी प्रशासन को व्यापारिक संगठनों ने खरीद करने में असमर्थता व्यक्त करने संबंधी पत्र दे दिया था। मंडी में मूंग बेचने आये किसानों का कहना है कि 8-10 दिन से मंडी में रुके हुए है, उनकी मूंग नहीं खरीदी जा रही है और जो खरीदी हो रही है उसमें उपज के दाम काफी कम मिल रहे हैं। तय हुआ कि यदि मूंग की बोली कम लगती है तो किसान तत्काल बोली कैंसिल करा सकता है। फिलहाल मंडी में मूंग की खरीदी प्रारंभ हो गया है।

CATEGORIES
TAGS
Share This
error: Content is protected !!