चुनाव : लालझंडा यूनियन ने निकाली रैली, संघ ने भी लगाया जोर

इटारसी। ईसीसी सोसायटी के चुनाव के मद्देनजर रेल कर्मचारियों में अपनी बेहतर पकड़ रखने वाली लाल झंडा यूनियन ने रेल परिक्षेत्र नयायार्ड में विशाल वाहन रैली निकालकर अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया।
आगामी 26 जून को होने जा रहे ईसीसी के चुनाव की उल्टी गिनती शुरु होते ही चुनाव लड़ने वाले मजदूर संगठनों का प्रचार भी युद्ध स्तर पर शुरु हो गया है। इसी के मद्देनजर रेल कर्मचारियों की पहली पसंद कही जाने वाली वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन यानी लाल झंडा यूनियन ने आज सोमवार को नयायार्ड रेल आवास क्षेत्र में विशाल वाहन रैली का आयोजन किया जिसमें रेलवे के सभी विभागों में काम करने वाले कर्मचारी अधिकारी शामिल हुए। यह वाहन रैली एसी शेड, डीजल शेड एवं वायसीएम आफिस के मध्य माइक्रो टावर से प्रारंभ हुई और एसी शेड के पास आते ही रैली ने बड़ा रूप ले लिया। यहां लंबे समय तक रेड यूनियन वालों ने जमकर आतिशबाजी भी की।
लाल झंडा यूनियन यह वाहन रैली अस्पताल, डबल स्टोरी, इंदिरा नगर, महानगरी कालोनी होते हुए वापस डीजल शेड पहुंचकर संपन्न हुई। रैली में पूर्व मंडल अध्यक्ष अरुण मालवीय, कार्यकारी अध्यक्ष केके शुक्ला के साथ ही बड़ी मात्रा में रेल कर्मचारी एवं लाल झंडा यूनियन के आठों प्रत्याशी शामिल हुए।


प्रचार में संघ ने फूंकी जान
ईसीसी चुनाव में महागठबंधन बनाकर चुनाव लड़ रहे वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ ने अंतिम समय में प्रचार में जान फूंक दी है। सोमवार को संघ के जोनल महामंत्री अशोक शर्मा इटारसी आये और मीडिया के समक्ष लाल झंडा यूनियन पर कई आरोप लगाये।
वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ के जोनल महामंत्री अशोक शर्मा आज सोमवार को इटारसी आये। यहां उन्होंने संघ कार्यालय में अपने संघ पदाधिकारियों के साथ ही सहयोगी संगठन ओबीसी एसोसिएशन के टीआर चौरे एवं एससी, एसटी एसोसिएशन के हितेश डोंगरे को भी साथ लेकर प्रेस को संबोधित किया। संघ ने रेलवे कर्मचारियों के हत में किये जाने वाले काम को गिनाया।
संघ महामंत्री अशोक शर्मा ने कहा कि ईसीसी सोसायटी के पैसे को शेयर बाजार में लगाकर सत्ताधारी लालझंडा यूनियन ने कर्मचारी सदस्यों के साथ धोखा किया है। रेल कर्मचारियों की स्थायी पेंशन बंद कराने में भी लालझंडा यूनियन के राष्ट्रीय नेताओं की भूमिका रही है। संघ नेता से पूछा गया कि आप रेल कर्मचारियों के लिए बहुत काम करते हैं और आपके विरोध बेईमानी करते हैं तो फिर भी ईसीसी चुनाव में वही क्यों जीतते हैं। इस पर श्री शर्मा ने कहा कि चुनाव के दौरान मतदाताओं को लिफापे बांटे जाते हैं।
प्रेस वार्ता के साथ ही एसी शेड में संघ की द्वारसभा हुई जिसे मंडल अध्यक्ष राजेश तिवारी ने संबोधित करते हुए कहा कि इस चुनाव में लालझंडा यूनियन के विजयी अहंकार को दूर करो। बता दें कि राजेश तिवारी पहले लालझंडा यूनियन में ही थे। ईसीसी चुनाव में महागठबंधन बनाकर चुनाव लडऩे वाले डब्ल्यूसीआरएमएस के पांच प्रत्याशी तथा सहयोगी संगठनों तीन प्रत्याशी संयुक्त रूप से चुनाव लड़ रहे हैं।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW