छापामार कार्यवाही : एसडीओपी को रंगेहाथ पकड़ते ही स्वास्थ्य बिगड़ा

छापामार कार्यवाही : एसडीओपी को रंगेहाथ पकड़ते ही स्वास्थ्य बिगड़ा

सिवनी मालवा। लोकायुक्त ने छापामार कार्यवाही कर पूर्व में लोकायुक्त में रहे एसडीओपी शंकर लाल सोनया को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया। शंकरलाल सोनया एसडीओपी सिवनी मालवा को 20 हजार रुपए लेते पकडा है। सट्टा खिलवाने में सहयोग प्रदान करने के लिये रुपये की मांग कर रहे थे। छापामार कार्यवाही के बाद शंकरलाल सोनया एसडीओपी का स्वास्थ्य बिगड़ गया जिन्हें सामदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया।
सिवनी मालवा में लोकायुक्त की कार्यवाही सागर से आई लोकायुक्त 10 सदस्यी टीम द्वारा की गई जिसमें एसडीओपी को रंगे हाथों 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए धरदबोचा।
आवेदक दीपक धन्यासे पर एसडीपीओ शंकरलाल सोनया सट्टा चलाने का दबाव बना रहे थे एवं प्रतिदिन पुलिसकर्मियों को भेज 10 हजार रूपये महीने की मांग कर रहे थे। फरियादी ने लोकायुक्त से संपर्क किया और फिर सागर से आई लोकायुक्त टीम ने योजनाबद्ध तरीके से आरोपी एसडीओपी शंकर लाल सोनया को 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए पकड़ा।
लोकायुक्त की टीम के द्वारा रिश्वत लेते हुए एसडीओपी शंकरलाल सोनया को पकड़ने के बाद उनकी तबीयत खराब हो गई जिनको आनन फानन में लोकायुक्त टीम ही उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गई। जहाँ डॉक्टर द्वारा बीएमओ के ऑफिस में एसडीओपी शंकर लाल सोनया का उपचार किया जा रहा है।
लोकायुक्त डीएसपी राजेश खेड़े ने बताया की वर्तमान सिवनी मालवा एसडीओपी शंकर लाल सोनया पर फरियादी दीपक धन्यासे की शिकायत पर कार्रवाई की गई है। जुर्म साबित होने पर 3 साल से 7 साल तक की सजा का प्रावधान है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW