जनपद अध्यक्ष ने किया बाल शिक्षा केंद्र शुभारंभ

बनखेड़ी। जनपद अध्यक्ष श्रीमती उमा छत्रपाल राय ने 28 अगस्त को बनखेड़ी ब्लॉक के ग्राम ढाना में आंगनवाड़ी केंद्र को बाल शिक्षा केंद्र के रूप में शुभारंभ किया। इस अवसर पर जनपद सीईओ ओपी मौकाती तहसीलदार राजेश बोरासी, नायब तहसीलदार निधि पटेल सहित ग्राम पंचायत के सरपंच कोमल सिंह सचिव जीवन लाल नागवंशी की उपस्थिति में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना अंतर्गत बालिका स्वास्थ्य, शिक्षा, सुरक्षा एवं सम्मान हेतु बालिकाओं का कन्या पूजन कर बाल शिक्षा केंद्र का शुभारंभ किया।
बालिका शिक्षा केंद्र शुभारंभ के बाद समस्त अतिथियो द्वारा वृक्षारोपण भी किया गया। उपस्थित प्रतिभागियों को बालिका जन्म को प्रोत्साहित किए जाने एवं बालक बालिका समानता एवं बालिका शिक्षा को प्रोत्साहित किए जाने हेतु संकल्प दिलाया हस्ताक्षर अभियान कार्यक्रम अंतर्गत किए जाने वाले व्यवसायियों में केशव माहेश्वरी द्वारा बच्चों को ड्रेस जूते एवं सांसद प्रतिनिधि सोनू साहू द्वारा स्कूल बैग तहसीलदार राजेश बोरासी द्वारा कुर्सी टेबल प्रदान कर आंगनवाड़ी केंद्र को सहयोग प्रदान किया गया।
परियोजना अधिकारी कमल कुमार ने बताया कि आंगनवाड़ी केंद्र में आने वाले 3 से 6 वर्ष तक के बच्चों के लिए 19 विषय का माहवार पाठ्यक्रम निर्धारित किया गया है। सत्र में स्वयं की पहचान मेरा घर व्यक्तिगत साफ-सफाई रंगों और आकृति, तापमान एवं पर्यावरण पशु पक्षी, यातायात के साधन और सुरक्षा के नियम हमारे मददगार मौसम और बच्चों का आत्मविश्वास तथा हमारे त्यौहार शामिल हैं। बाल शिक्षा केंद्र में 3 से 6 वर्ष के बच्चों की आयु समूह के अनुसार तीन एक्टिविटी वर्क बुक तैयार की गई। बच्चों के विकास की निगरानी के लिए शिशु विकास कार्ड बनाए गए। बाल शिक्षा केंद्र में आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए बच्चों को वर्ष भर में करवाई जाने वाली गतिविधियों का संकलन तथा मासिक व साप्ताहिक कैलेंडर की जानकारी उपलब्ध कराई 3 से 6 वर्ष के बच्चों के विकास का अवलोकन करने के लिए आयु समूह के अनुसार शिशु विकास कार्ड बनाए गए। आंगनवाड़ी छोड़ते समय बच्चों को दिए जाने वाले प्रमाण पत्र और प्रतिवर्ष पीपीईसी किट उपलब्ध कराई जा रही है। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती सोनाली शर्मा द्वारा किया गया। कार्यक्रम में आंगनवाड़ी सहायिका सहित बच्चे व उनके अभिभावक उपस्थित रहे।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW