जल आवर्धन योजना में गड़बड़ी की कलेक्टर से शिकायत

इटारसी। शहर के लोगों को आगामी तीस वर्ष तक भरपूर पानी मिले, इसके लिए तैयार की गई जल आवर्धन योजना में गड़बड़ी होने की शिकायत कलेक्टर से की गई है। मप्र युवक कांग्रेस मीडिया सेल के समन्वयक अमोल उपाध्याय ने अपनी शिकायत में कहा है कि योजना में करोड़ों रुपए का भ्रष्टाचार हुआ है। उन्होंने कहा कि पाइप लाइन बिछाने और पांच टंकियों का निर्माण कार्य पूर्ण होना था लेकिन विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों, कर्मचारियों और ठेकेदारों की अकर्मण्यता के कारण 14 करोड़ की यह योजना 25 करोड़ तक पहुंच गयी है। पांच में से चार टंकियों का ही निर्माण हो सका है।
उनका आरोप है कि शहर को भ्रम में रखकर इस योजना का विगत वर्ष जुलाई माह में तत्कालीन मंत्री माया सिंह से लोकार्पण भी करा लिया गया जो जनता के साथ छल है। सत्ताधारी और विपक्ष के पार्षद भी यह सवाल परिषद की बैठकों में उठाते रहे हैं कि जल आवर्धन योजना का पानी शहर में कब आएगा। योजना का मुख्य प्रारूप जिसके आधर पर यह योजना स्वीकृत हुई थी उसे जिम्मेदारों ने कंपनी के साथ प्रारंभ से ही पूर्णत: खुर्दबुर्द कर दिया तथा पाइप लाइन सीआई पाइप को डीपीआर की शर्तो के तय स्तर से दरकिनार कर बिछा दिया। जिससे आज पाइप लाइन कई जगह से टूटती रहती है। योजना पर काम करने वाली दोषियान कंपनी गुणवत्ताहीन कार्य करती रही और योजना के प्रभारी मौन स्वीकृति देते रहे।
कलेक्टर से शिकायत में मांग की है कि योजना के सभी आवश्यक पहलुओं जैसे डिजाइन, ड्राइंग, वर्क, मेजरमेंट बुक आदि सहित तमाम कार्यों की विस्तृत जांच सहित वर्तमान वस्तुस्थिति की सूक्ष्म जांच करायी जाए।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW