जिले के 294 केन्द्रों पर होगी गेहूं खरीदी

जिले के 294 केन्द्रों पर होगी गेहूं खरीदी

इटारसी। कलेक्टर धनंजय सिंह ने 15 अप्रैल से प्रारंभ होने वाले रबी उपार्जन हेतु किसानों को मंडी में एसएमएस के माध्यम से ही बुलाए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने उपार्जन केंद्रों सोशल डिस्टेंसिंग के मानको का गंभीरता से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर श्री सिंह ने कृषकों से आग्रह किया है कि वे कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु खरीदी केंद्रों पर मास्क, सेनेटाइजर व अन्य सावधानियां आवश्यक रूप से बरतें व कृषक निर्धारित दिवसों एवं समय पर ही उपार्जन केंद्र में आएं। कलेक्टर ने शासन के निर्देशानुसार समितियों को यह निर्देश दिए हैं कि खरीदी में अधिक भीड़ न हो इसलिए केन्द्रो पर केवल एसएमएस प्राप्त किसान ही अपनी उपज विक्रय हेतु आए यह सुनिश्चित करें।
रबी विपणन वर्ष 2020-21 हेतु जिले में रबी उपार्जन के लिए 294 खरीदी केन्द्र निर्धारित किए हंै। किसानों की सुविधाओं की दृष्टिगत पिछले वर्ष की तुलना में खरीदी केन्द्रों की संख्या में वृद्धि की गई है। जिले में निर्धारित 294 खरीदी केन्द्रों में 88 केन्द्र गोदाम स्तरीय, 17 केन्द्र मंडियों पर तथा शेष 186 समिति स्तर पर स्थापित किए हैं। कलेक्टर धनंजय सिंह के निर्देशानुसार गेहूं उपार्जन के सफल क्रियान्वयन हेतु उपार्जन केन्द्रों में क्लस्टर मैनेजमेंट एवं लॉजिस्टिक मैनेजमेंट के लिए ब्लाक स्तरीय अधिकारी की नियुक्ति की गई है। प्रत्येक ब्लाक के लिए 1 जिला स्तरीय नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। कलेक्टर श्री सिंह ने सभी खरीदी केन्द्रों में लॉजिस्टिक एवं क्लस्टर मैनेजमेंट के लिए वर्टिकल आधारित अधिकारियों को दायित्व सौंपने के निर्देश दिए हंै।
उल्लेखनीय है कि खरीदी केन्द्र में अपनी उपज विक्रय के लिए कृषकों को शासन के निर्देशानुसार एसएमएस भेजने की कार्यवाही की जा रही है। कलेक्टर श्री सिंह ने निर्देशित किया है कि कृषक एसएमएस प्राप्त होने के उपरांत ही खरीदी केन्द्रों में आए यह सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि पटवारी/पंचायत सचिव, रोजगार सहायक उपार्जन केन्द्र प्रभारी द्वारा प्रदत्त एसएमएस प्राप्त किसानों की सूची के माध्यम से ही किसानों को केन्द्र पर उपज विक्रय हेतु आने एवं शेष किसानों को एसएमएस प्राप्त होने पर ही उपज विक्रय के लिए आने की समझाईश देंगे। उन्होंने कहा कि खाद्य विभाग द्वारा मोबाइल पर भेजी गई सूचना के आधार पर ही उपार्जन केन्द्र में आने की अनुमति दी जाए। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि किसानों को अपनी उपज विक्रय हेतु अधिक इंतजार न करना पड़े इसलिए खरीदी केन्द्रों को निर्धारित समय से संचालित किया जाए।
उल्लेखनीय है कि रबी उपार्जन हेतु 15 अप्रैल से जिले के 291 उपार्जन केंद्रों में गेहूं की खरीदी प्रारंभ होगी। जि़ला खाद्य अधिकारी ने बताया कि किसानों की सुविधा हेतु समितियों में समूचित व्यवस्था की गई है। उन्होंने कृषकों से आग्रह किया है कि वे निर्धारित तिथि एवं समय पर ही खरीदी केन्द्र आएं साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग मापदंडों का अनिवार्य रूप से पालन कराएं।

TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!