ट्रायल लेने के बहाने वाहन उड़ाकर निकला चोर पकड़ाया

इटारसी, 10 फरवरी. चोरी की कार लेकर बेचने की फिराक में घूम रहे गुजरात के एक शातिर चोर को आज दोपहर पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तार कर लिया है. टीआई भूपेन्द्र सिंह मौर्य ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर उसे घेराबंदी करके पकड़ा है.
सिटी पुलिस को अंतर्राज्यीय स्तर पर वाहन की हेराफेरी करने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है. प्रदीप सिंह जडेजा पिता पोपट सिंह जडेजा, निवासी ग्राम पतरी, तालुका मूंदरा जिला कच्छ गुजरात के निवासी को चोरी की कार के साथ गिरफ्तार किया है. आरोपी धारा 41 (1-4)जाफौ 379 आईपीसी के तहत गवाह विजय सिंह रघुवंशी, शैलेन्द्र लौवंशी के समक्ष दोपहर 12:25 बजे गिरफ्तार किया.
ऐसे हुई आरोपी की गिरफ्तारी
टीआई श्री मौर्य के अनुसार टेलीफोन पर मुखबिर से सूचना मिली थी कि शिवराजपुरी कालोनी में एक व्यक्ति एक कार लेकर संदिग्ध अवस्था में घूम रहा है जो उस कार को बेचने की फिराक में है. सूचना की तसदीक करे उन्होंने सहायक उपनिरीक्षक संजय रघुवंशी, आरक्षक शैलेन्द्र, दम्मू सिंह, संगीत को रवाना किया जो मुखबिर के बताए स्थान पर पहुंचे. वहां मौजूद लोगों की उपस्थिति में उसकी घेराबंदी करके पूछताछ की तो संतोषजनक जवाब नहीं दे सका. पुलिस टीम उसे लेकर थाने आ गई.
दो अलग-अलग पते मिले
आरोपी से पूछताछ में दो पते पुलिस को पता चले हैं. पहले पूछताछ में उसने अपना नाम प्रदीप सिंह जडेजा पिता पोपट सिंह जडेजा, निवासी ग्राम पतरी, तालुका मूंदरा जिला कच्छ गुजरात बताया. लेकिन, उसके पास जो परिचय पत्र पुलिस को मिला है, उस पर प्रदीप सिंह पिता पोपट सिंह जडेजा 57 वर्ष निवासी 1-31 बालाजी मंदिर के पीछे, झोटवाड़ा, जिला जयपुर राजस्थान का निवासी अंकित है. आरोनी ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि उसका कोई रिश्तेदार जीवित नहीं है.
ट्रायल लेने के बहाने उड़ाया वाहन
पकड़ा गया आरोपी प्रदीप जडेजा इतना शातिर है कि वह जो वाहन लेकर भागा है, वह ट्रायल लेने के बहाने उड़ाया है. उसने बताया कि उक्त वाहन आनंद जुत्सी निवासी जीवन मार्केट एबी रोड गुना का है. उसको उक्त कार पांच लाख रुपए में खरीदने का झांसा दिया तथा सौदा पक्का करके बिना कोई राशि दिए, ट्रायल लेने के बहाने लेकर भाग निकला. उसने बताया कि वह 29 जनवरी को वाहन लेकर निकला है. उसने स्वीकार किया है कि वह इसे यहां बेचने की फिराक में घूम रहा था.
और भी चोरियां कबूलीं
आरोपी ने बताया कि इसी तरह की घटना में सन 2014 में विजयवाड़ा आंध्रप्रदेश में एक अल्टो कार चुराई. इसी वर्ष गुना में राजस्थान टायर वाले भाईजान की स्विफ्ट वीडीआई कार को चुराया था. करीब छह-सात माह पूर्व राजस्थान के पाली से अरविंद सिंह राठौर की आई-20 कार चुराई. श्योपुर के अब्दुल अमीद की स्वीफ्ट डिजायर को चुराकर खराब होने पर मैकेनिक के पास गुना में सुधरने दी. गुना से आनंद जुत्सी की टाटा इंडिगो एमपी 08 सीए 4437 लेकर भागा जो यहां पकड़ा गया.

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: