ठंड से बचाने, डेढ़ हजार जोड़ी कपड़े बांटे

इटारसी। केसला के जंगलों में जीवन-यापन करने वाले गरीब आदिवासियों को इस ठंड के मौसम में गर्म कपड़े मिल जाएं तो देने वाला उनके लिए किसी मसीहा से कम नहीं होता है। यहां के गरीब आदिवासी मजदूरी कर बमुश्किल पेट के लिए दाना-पानी जुटा पाते हैं। ऐसे में इटारसी का डीम्स इंडिया क्लब उनके लिए पिछले पांच वर्ष से ठंड से बचने के अलावा तन ढंकने के लिए भी कपड़े उपलब्ध करा रहा है।
क्लब के रामविलास गौर और मनीष रैकवार ने बताया कि ठंड के सीजन में वर्ष में एक बार क्लब के सदस्य अपने स्वयं के परिवार के अलावा अपने परिचितों के परिवारों से कपड़ों का संग्रह करके दूरस्थ घने जंगलों में बसे इन आदिवासियों के लिए उनके गांव जाकर वितरित करते हैं। आज भी क्लब के सदस्य करीब डेढ़ हजार जोड़ी गर्म और अन्य तन ढंकने के कपड़े लेकर पहुंचे तो गांववालों की खुशी का ठिकाना न रहा।


ड्रीम्स इंडिया क्लब के इन सदस्यों ने ग्राम ओझापुरा, दौड़ी झुनकर, कोटमी रैयत, चनागढ़, कोटमीमाल, सिलवानी आदि गांव में जाकर 1500 जोड़ी महिला-पुरूषों और बच्चों को कपड़े प्रदान किए। क्लब के विजय मलैया, बीएल केवट, रवि सोलंकी, मनीष रैकवार, विनोद कसार, पमिल पटैल, कुंजीलाल, कपिल चौधरी, अमित चौधरी, प्रदीप जाधव, नैतिक कसार, संतोष राजपूत, हरिओम मालवीय, उमंग मालवीय, संदीप जैन, मोहन यादव, अमित चौरे सहित अनेक सदस्यों ने इस मानवसेवा के कार्य में सहयोग प्रदान किया।

CATEGORIES
TAGS
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: