तैयारी : अब तक 45 आदिवासी जोड़ों के आवेदन आए

इटारसी। आदिवासी सेवा समिति तिलक सिंदूर के तत्वावधान में रविवार को हुई बैठक में क्षेत्र के लगभग 150 महिला और पुरुष शामिल हुए। समिति गरीब परिवार की जो मदद कर रही है, उसमे 12 आवेदन प्राप्त हुए। इससे पहले 85 आवेदन पिछले सप्ताह तक प्राप्त हो चुके हैं। इस प्रकार समिति के पास इस वर्ष कुल 97 आवेदन प्राप्त हो चुके हैं।
इस वर्ष समिति तिलक सिंदूर मंदिर से 16 जून को मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत शादी करा रही है। कन्यादान योजना के अंतर्गत अब तक 46 आवेदन प्राप्त हुए। बैठक में समिति ने शादी के संबंध में रूपरेखा बनाई। निर्णय लिया कि यह सम्मेलन आदिवासी समुदाय का सबसे बड़ा सम्मेलन होगा जिसमें लगभग 15000 लोगों के भोजन की व्यवस्था पुरुष और महिला की अलग-अलग रहेगी। समिति के 500 कार्यकर्ता व्यवस्था को संभालेंगे। शादी कार्यक्रम में आदिवासी रीति रिवाज के ज्ञाता गोंडी धर्माचार्य सोहन लाल पेन्द्राम, राष्ट्रीय भुमक संघ के अध्यक्ष खुमान साह इवनाती तथा बैतूल भोपाली महादेव के अध्यक्ष मदन चौहान द्वारा संपन्न कराया जायेगा। इस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम, डीजे, ढोल बाजे की व्यवस्था पर भी सहमति बनी। समिति द्वारा 10 से 16 जून भुमका प्रशिक्षण भी रखा है जिसमें आदिवासी रीति रिवाज शादी विवाह, मुंडन संस्कार, उजालपाक, गृह प्रवेश, मृत्यु संस्कार आदि की शिक्षा दीक्षा दी जायेगी। उक्त जानकारी आदिवासी सेवा समिति तिलक सिंदूर मंदिर समिति के संरक्षक सुरेंद्र धुर्वे ने दी। बैठक में अध्यक्ष बल्देव तेकाम, सचिव श्यामलाल वारिवा, जितेन्द्र इवने, सलाहकार अवधराम कुमरे, वंशीलाल मर्सकोले, गज्जू सरयाम आदि उपस्थित थ।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW