थाने में लगे चार कैमरे, शहर में भी लगाने की तैयारी

थाने में लगे चार कैमरे, शहर में भी लगाने की तैयारी

इटारसी। अब पुलिस कैमरों के जरिए भी अपनी सुरक्षा व्यवस्था को चौकस बना रही है। पुलिस विभाग की ओर से पुलिस स्टेशन में चार कैमरे लगाए जा चुके हैं और अभी और कैमरे आने हैं. बताया जाता है कि करीब दो दर्जन स्थानों पर पुलिस की ओर से कैमरे लगाए जाएंगे, नगर पालिका परिषद की ओर से भी शहर में करीब डेढ़ दर्जन स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की योजना है। इसके लिए राशि आ चुकी है और जल्द ही नगर पालिका भी शहर में कैमरे लगाने का कार्य करेगी. पुलिस थाने में 4 सीसीटीवी कैमरे लगाए जा चुके हैं और इन कैमरों को शुरु भी किया जा चुका है। कैमरे की खासियत अंधेरे में भी कार्य करेंगे। यह सीसीटीएनएस से कनेक्ट रहेंगे, इनकी ऑनलाइन मॉनिटरिंग भी होगी जिससे थाने में हर एक व्यक्ति पर नजर रखी जाएगी।
टीआई भूपेन्द्र सिंह मौर्य ने बताया कि अभी पुलिस थाने में चार कैमरे लगाए गए हैं। ये कैमरे प्रवेश और निकास के लिए दो, एक हाल में तथा एक हवालात में भी लगाया गया है। उन्होंने कहा कि कैमरे लग जाने से सुरक्षा की दृष्टि से काफी मदद मिल जाएगी। उन्होंने बताया कि पुलिस विभाग से करीब पच्चीस स्थानों के लिए कैमरे स्वीकृत हैं, अभी चार कैमरे लगे हैं, शेष कैमरे आने पर लगाए जाएंगे। श्री मौर्य ने बताया कि नगर पालिका परिषद के पास भी मंजूरी आ गयी है, हमने उन्हें उन स्थानों की सूची दे दी है जहां कैमरे लगाए जाने हैं, जल्द ही नगर पालिका की मदद से भी शहर में कैमरे लगाए जाएंगे।
पुलिस की है ये योजना
जिले के शहरों एवं संवेदनशील स्थानों की सुरक्षा एवं उपद्रव और अपराधों के नियंत्रण के लिए पुलिस नए सीसीटीवी सर्विलांस सिस्टम की स्थापना कर रही है। जिले के मुख्य सात शहरों में 130 विशेष प्रकार के सीसीटीवी कैमरे लगेंगे। इटारसी शहर में बस स्टैंड, रेस्ट हाउस तिराहा, जमानी रोड, सोनासांवरी रोड, धौखेड़ा रोड, 13 वी लाइन, सोनासांवरी नाका, सनखेड़ा नाका, नीलम चौराहा, स्टेट बैंक चौराहा, लक्कडग़ंज, सूरजगंज, आजाद पंजा चौराहा, इंगल चाल चौराहा, बजरंगपुरा, ग्वालबाबा, एमसीओ ऑफिस, गायत्री मंदिर चौराहा, दीवान कॉलोनी, शिवराजपुरी कॉलोनी, सराफा, लोहा बाजार, चावल लाइन, जयस्तंभ, मिर्ची चौराहा, गरीबी लाइन, दशमेश कॉलोनी में कैमरे लगेंगे. शहर में अलग से कंट्रोल रूम बनाए जा रहे हैं। कंट्रोम रूम से सीधे सभी स्थानों की गतिविधियों एवं व्यक्तियों को कैद कर उसके फुटेज निकाले जाएंगे।
ये होंगे फायदे
इस नए सिस्टम से हर संदिग्ध गतिविधियों की सतत नजर रखी जाएगी। किसी भी प्रकार के संदिग्ध व्यक्ति व गतिविधियों, अपराध एवं उपद्रव को ट्रेस कर उस पर त्वरित नियंत्रण लगाया जा सकेगा। कैमरों में कैद दृश्य से अपराधियों की तुरंत पहचान व धरपकड़ होगी। कैमरे के फुटेज कानूनी सबूत के रूप में भी कोर्ट में मदद करेंगे।
इनका कहना है…!
चार कैमरे थाना परिसर में लगा दिए गए हैं और ये चालू भी हो गए हैं। विभाग से 25 स्थानों पर कैमरे लगाए जाने की स्वीकृति है। जल्द ही अन्य स्थानों पर भी कैमरे लगेंगे। नगर पालिका भी कैमरे लगाएगी, इसके बाद संपूर्ण शहर कैमरों की नज़र में आ जाएगा।
भूपेन्द्र सिंह मौर्य, टीआई

CATEGORIES
TAGS
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: