देखते ही देखते जल गए 40 एकड़ के खेत

देखते ही देखते जल गए 40 एकड़ के खेत

इटारसी। खेड़ा और सनखेड़ा गांव के बीच खेतों में आज दोपहर को लगी आग से करीब 40 एकड़ गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। आग लगने का कारण अज्ञात है। घटना की सूचना मिलते ही सैकड़ों लोग खेतों की ओर दौड़े। इटारसी नगर पालिका की दमकल और पानी के टैंकरों सहित ग्रामीणों ने झाड़ियों की मदद से आग बुझाई।
आसपास के गांवों के लगभग पांच सौ से अधिक लोगों ने मिलकर आग पर काबू किया। आग बुझाने में करीब 2 घंटे का वक्त लगा। घटना में हंसकुमार रामकिशन पुरानी इटारसी, रामौतार यादव खेड़ा, सतीश पटेल सहित अन्य किसानों के खेत की फसल तथा एक खेत में खड़ा हार्वेस्टर भी आग की चपेट में आकर आंशिक रूप से जल गया। सूचना के बाद पटवारी ने मौके पर पहुंचकर नुकसान का आंकलन शुरू किया है।
सबके प्रयासों से बुझी आग
जिसको जैसी खबर मिलती गई, वो खेतों की ओर दौड़ता गया। आग की चपेट में सतीश पटेल मुन्ना के खेत भी आए। उन्हें खबर लगी तो वे कल्टीवेटर लगा ट्रैक्टर लेकर खेत में पहुंचे। इधर नगर पालिका की दमकल भी मौके पर पहुंची और सूचना मिलने पर मुख्य नगर पालिका अधिकारी सुरेश दुबे भी मौके पर पहुंचे। आग की सूचना मिलने पर राजकुमार यादव पार्षद और जिला पंचायत सदस्य विजय चौधरी बाबू भी मौके पर पहुंचे। किसानों ने बताया कि आग का कारण पता नहीं चल सका है। मौके पर बच्चे, बूढ़े, युवा, सभी प्रकार के लोग आग बुझाने पहुंचे थे और सबने अपने-अपने प्रयासों से आग को काबू में किया।
इनका हुआ इतना नुकसान
किसान रकबा नुकसान (लगभग)
रामौतार यादव – 6 एकड़ 1 लाख 92 हजार
राजेश यादव – 3 एकड़ 96000
राजकुमार यादव – 3 एकड़ 96000
अनोखीलाल यादव -3 एकड़ 96000
उमाशंकर यादव – 3 एकड़ 96000
बालकृष्ण पटेल – 2 एकड़ 64000
कुंदनलाल पटेल – 2 एकड़ 64000
सतीश पटेल – 2 एकड़ 64000
हंस कुमार चिमानिया – 2 एकड़ 64000
कुल 32 एकड़ – कुल क्षति लगभग 9 लाख 28 हजार रुपए

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW