देर रात तक गाये बच्चन की फिल्मों के गीत

देर रात तक गाये बच्चन की फिल्मों के गीत

इटारसी। बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन के जन्मदिन पर ईश्वर रेस्टॉरेंट में देर रात तक उनकी फिल्मों के गीतों की महफिल सजी रही। सोशल मीडिया ग्रुप आपसी मेलजोल ग्रुप ने यह आयोजन किया था। जन्मदिन कार्यक्रम में केक काटकर अमिताभ बच्चन की दीर्घ आयु की कामना भी की गई। 11 अक्टूबर 1942 में जन्मे अमिताभ बच्चन के जन्मदिन पर उनकी ही फिल्मों के गीत ग्रुप के सदस्यों ने गाये।
पहला गीत अनिल शुक्ला ने रिमझिम गिरे सावन गाया तो पंकज गुप्ता लेकर आए आज रपट जाएं तो, विशाल पांडेय ने हम बोलेगा तो बोलोगे कि बोलता है, गाकर कार्यक्रम को आगे बढ़ाया। सुरेश यादव ने जिसका कोई नहीं उसका तो खुदा है यारो, रोहित नागे ने कभी-कभी मेरे दिल में ख्याल आता है, राजकुमार बावरिया ने मेरे दोस्त किस्सा ये क्या हो गया, मनोज राठौर ने कहीं दूर जब दिन ढल जाए, संतोष थियोडर ने प्यार को चाहिए क्या एक नजर, कमलेश मनवारे ने लोग कहते हैं, मैं शराबी हूं, कमल शुक्ला ने मंजिलें अपनी जगह है और चंद्रेश मालवीय ने भी गीत गाकर अमिताभ के प्रति अपनी चाहत प्रदर्शित की। कार्यक्रम में ग्रुप के वरिष्ठ सदस्य जुगलकिशोर शर्मा, अखिल दुबे, बालकृष्ण मालवीय, आशीष चौधरी, रजत मिश्रा सहित अनेक श्रोता मौजूद थे।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW