देश की पहली नर्मदा सेवा हेल्प लाइन प्रारंभ होगी

पत्रकार वार्ता में दी जानकारी
होशंगाबाद। नर्मदा जयंती पर देश दुनिया की पहली जीवनदायनी मां नर्मदा के जल शुद्धिकरण संरक्षण संवर्धन के लिए मां नर्मदा सेवा हेल्प लाइन सेवा प्रारंभ होगी। यह देश दुनिया में पहला प्रयास प्रयोग होगा जब किसी नदी के संरक्षण संवर्धन के लिए हेल्प लाइन सेवा का प्रारंभ होगी। यह जानकारी नर्मदा मिशन के संस्थापक समर्थ सदगुरु भैया जी सरकार ने पत्रकार वार्ता में दी।
उन्होंने बताया कि इस हेल्प लाइन सेवा से नर्मदा के निकटवर्ती तटवर्ती नर्मदा परिक्रमा पथ के गांव नगर को जोड़ हम एक ऐसी समर्थ सक्षम विराट मानव श्रंखला को बनाने का प्रयास होगा जो पूर्णत: मां नर्मदा जल शुद्धिकरण संरक्षण संवर्धन के लिए कार्य करेगा। हम इस हेल्प लाइन सेवा के माध्यम से नर्मदा के उन तटों पर जहां अवैध रूप से रेत माफिया शराब माफिया अंधाधुंध दोहन कर धर्म संस्कृति सभ्यता के विपरीत कार्य कर रहे है उन पर अकुंश लगाना।साथ ही जनभागीदारी के माध्यम से संरक्षण संवर्धन के सेवा कार्यों एवं राज्य सरकार की योजनाओं को ज़मीनी स्तर पर क्रियान्वित करना होगा।
सदगुरु ने बताया कि होशंगाबाद नर्मदापुरम तीर्थ नगरी में पंचकोषी परिक्रमा प्रारंभ होगी, नर्मदा जयंती पर दुर्गा उत्सव की तर्ज पर दिव्य नर्मदा कलश की स्थापना होगी। नर्मदापुरम तीर्थ क्षेत्र में दिसंबर में नर्मदा जल शुद्धिकरण संरक्षण संवर्धन के उदेश्य को पूर्ण करने एवं मां नर्मदा पथ पर विद्यमान अतिप्राचीन दिव्य तीर्थों धरोहरों को संरक्षित करने उनकी महिमा महत्व जन मानस के समक्ष रखने नर्मदा पंचकोशी परिक्रमा प्रारंभ करेंगे। नर्मदा भक्त प्रेमियों को जोड़ जन जागरण करेंगे। हमारा प्रयास है नर्मदापुरम में भी बृज की 84 कोष की परिक्रमा की तर्ज पंच कोषी परिक्रमा हो। हमारा उद्देश्य धर्म कला संस्कृति सभ्यता की मेरुदंड माँ नर्मदा जयंती को एक महोत्सव के रूप में गावं गांव नगर नगर का सम्पूर्ण मध्य भारत में सबसे बड़े महोत्सव के रूप में स्थापित करना।
उन्होंने बताया कि इस बार नर्मदा जयंती पर जागरूकता महाअभियान के अंतर्गत मां नर्मदा महिमा महत्व से संबंधित प्रदर्शनी के माध्यम से स्वच्छता पवित्रता का संदेश नर्मदा मिशन एवं स्थानीय अनेक धार्मिक सामाजिक संगठन समितियां संयुक्त रूप से देंगी।

CATEGORIES
TAGS
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW