नपा और रेल प्रशासन अब एक साथ, मिलेगी कई सुविधाएं

पार्किंग, सफाई और शौचालय के लिए नपा ने मांगी रेलवे की भूमि साझा निरीक्षण किया, प्रपोजल दोनों विभाग भेजेंगे अपने वरिष्ठों को

फैक्ट फाइल
पार्किंग, सफाई और शौचालय के लिए नपा ने मांगी रेलवे की भूमि
साझा निरीक्षण किया, प्रपोजल दोनों विभाग भेजेंगे अपने वरिष्ठों को
इटारसी। रेलवे और नगर पालिका प्रशासन कई मामलों में शहर की व्यवस्था के लिए साझा काम करने को सहमत हो गए हैं। आज शाम नगर पालिका अधिकारियों और रेलवे के अधिकारियों के बीच करीब एक घंटे इस मुद्दे पर चर्चा चली और दोनों विभाग के अधिकारियों ने साझा निरीक्षण करके व्यवस्थाओं के लिए भूमि देखी। कुछ मुद्दों पर पूर्व से चले आ रहे शिकवा-शिकायतों पर भी चर्चा करके उनका निराकरण तलाशने पर सहमति बनी।
आज शाम को प्लेटफार्म क्रमांक एक पर स्टेशन अधीक्षक के कक्ष में हुई बैठक में स्टेशन अधीक्षक वायएस बघेल और सीएमओ सुरेश दुबे के साथ स्वच्छता निरीक्षक आरके तिवारी, सब इंजीनियर मुकेश जैन व रेलवे के अन्य अधिकारी शामिल हुए। पिछले कुछ दिनों से भूमि की कमी महसूस कर रहे नगर प्रशासन की रेलवे की भूमि पर कुछ योजनाएं क्रियान्वित करने की योजना थी, जिस पर आज शाम चर्चा हुई है। पूर्व में दिए प्रस्ताव पर स्थानीय अधिकारियों ने अपने आला अफसरों से चर्चा की थी जिस पर उनकी सहमति होने की जानकारी भी रेलवे के स्थानीय अधिकारियों ने नपा अधिकारियों को दी।
इन मुद्दों पर बन गई सहमति
रेलवे और नपा प्रशासन के अफसरों के बीच हुई बैठक में मूलभूत सुविधाओं पर हुई चर्चा में सार्वजनिक शौचालय के लिए सहमति बनी है। इसके लिए रेलवे भूमि उपलब्ध कराएगी और नगर पालिका उस पर सार्वजनिक शौचालय का निर्माण करेगी। या तो नगर पालिका स्वयं या किसी निजी संस्था से उसका संचालन कराया जाएगा। इसके लिए अधिकारियों ने भूमि का निरीक्षण भी मौके पर जाकर किया। रेलवे अधिकारियों ने पार्सल आफिस के साइड में रेलवे के पूर्वी द्वार के पास की भूमि दिखाई। यहां एल आकार का सार्वजनिक शौचालय पर विचार किया। इसी तरह से पार्किंग के लिए भी जगह की तलाश की गई तो मध्य द्वारा और पूर्वी द्वार के बीच में दीवार से सटकर पार्किंग के लिए जगह पर सहमति बन गई है। रेलवे भूमि उपलब्ध कराएगी तथा नपा पार्किंग विकसित करेगी। इन दोनों ही सुविधाओं का इस्तेमाल रेल परिसर के यात्री और शहर के नागरिक करेंगे।
सफाई पर हुई सार्थक चर्चा
शहर की सफाई को लेकर रेल अधिकारियों और नपा अधिकारियों के मध्य चर्चा सार्थक रही। रेलवे ने उसी सीमा दीवार से सटकर पेट्रोल पंप के सामने स्थित गुमटी संचालकों द्वारा रेलवे सीमा में कचरा फैंककर गंदगी फैलाने की शिकायत की थी। इधर नगर पालिका की भी शिकायत थी कि मेहरागांव के पास रेलवे ब्रिज से जीआरपी थाना तक बसे शहरी इलाके में रेलवे का कचरा फैलकर वार्डों में गंदगी करता है। ट्रेनों से निकलने वाला कचरा उड़कर आबादी इलाकों में आता है। इस पर सफाई की साझी योजना पर काम करने पर सहमति बनी। रेलवे कचरा डंपिंग के लिए कोई जगह उपलब्ध कराएगी तथा रेलवे और नगर पालिका संयुक्त रूप से इन जगहों की सफाई करके रेलवे की बतायी भूमि पर कचरा डंप करेंगे। इसमें तय किया है कि या तो इसमें ज्वाइंट कलेक्शन किया जाएगा या फिर यह व्यवस्था ठेके पर भी दी जा सकती है।
दोनों ने मांगे अपने-अपने प्रस्ताव
इन व्यवस्थाओं के लिए दोनों विभाग ने अपने-अपने प्रस्ताव मांगे हैं ताकि वरिष्ठ कार्यालय को भेजकर इस पर सहमति लेकर आगे कदम बढ़ाए जाएं। रेल अधिकारियों का कहना है कि पूर्व के प्रस्तावों पर ज्यातर में उच्च अधिकारी सहमत हैं, लेकिन आधिकारिक सहमति के लिए प्रस्ताव भेजना होगा। रेलवे नगर पालिका को किन शर्तों पर भूमि उपलब्ध कराएगी, उसकी क्या भूमिका रहेगी, इस आशय का प्रस्ताव रेलवे तैयार करके नगर पालिका को देगी ताकि नगर पालिका उच्च स्तर पर इस प्रस्ताव को भेजकर वहां से स्वीकृति प्राप्त करेगी। इसी तरह से नगर पालिका क्या काम और कैसे करेगी, उसकी क्या शर्तें रहेंगी, इसका एक प्रस्ताव बनाकर रेलवे के स्थानीय अधिकारियों को सौंपेंगे और रेल अधिकारी मंडल स्तर पर प्रस्ताव भेजकर आला अधिकारियों की स्वीकृति प्राप्त करेंगे। दोनों जगह से स्वीकृति मिलने पर साझा कार्यक्रम पर काम शुरु होगा।
इनका कहना है…!
रेलवे के अधिकारियों से आज कई मुद्दों पर साझा काम करने की चर्चा हुई है। हमने उनसे प्रस्ताव मांगा है, तथा उन्होंने हमसे प्रस्ताव मांगा है। दोनों विभाग अपने उच्च अधिकारियों को प्रस्ताव भेजेंगे और वहां से स्वीकृति के बाद काम शुरु किया जाएगा।
सुरेश दुबे, सीएमओ
आज नगर पालिका के अधिकारी आए थे, कुछ मुद्दों पर चर्चा हुई है। हमारा उनको पूरा सहयोग रहेगा। उनकी योजनाएं अच्छी हैं जिसमें दोनों विभागों को फायदा होगा। वे जो भी प्रस्ताव बनाकर हमें देंगे हम अपने उच्च अधिकारियों को भेज देंगे।
वायएस बघेल, स्टेशन अधीक्षक

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW