नपा को जिलवानी में मिली 12 एकड़ भूमि

अब शहर की सफाई व्यवस्था में होगा क्रांतिकारी बदलाव

अब शहर की सफाई व्यवस्था में होगा क्रांतिकारी बदलाव
इटारसी। शहर को गंदगी मुक्त करने के प्रयासों को अब और अधिक बल मिलेगा। अब तक शहर में दिखने वाले कचरे के ढेर से जल्द मुक्ति मिलने वाली है। मप्र विधानसभा के अध्यक्ष डॉ.सीतासरन शर्मा के प्रयासों से राज्य शासन ने जिलवानी के पास ठोस अवशिष्ठ प्रबंधन के लिए 12 एकड़ भूमि का आवंटन कर दिया है। 5.111 हेक्टेयर छोटे घास की भूमि की स्वीकृति नपा इटारसी को मिल गई है। अब नगर पालिका इसमें कचरा निष्पादन के लिए यूनिट लगाने की प्रक्रिया शुरु कर सकती है।
उल्लेखनीय है कि शहर में कचरा निष्पादन के लिए स्थान नहीं होने के कारण हर रोज निकलने वाले कचरे को डंप करने के लिए परेशानी होती थी। इसे ध्यान में रखते हुए नगर पालिका ने शासन से भूमि की मांग करीब एक वर्ष पूर्व की थी। नगर पालिका ने कलेक्टर के माध्यम से यह प्रस्ताव शासन के पास अंतर्विभागीय समिति की बैठक में 6 अक्टूबर 16 के लिए गए निर्णय अनुसार इसकी स्वीकृति जारी की गई है। राजस्व विभाग की अवर सचिव सुमन रायकवार के हस्ताक्षर से जारी स्वीकृति पत्र नगर पालिका को प्राप्त हो गया है।
गौरतलब है कि शहर में नगर पालिका सफाई व्यवस्था के लिए लगातार प्रयास कर रही है। शहर के विभिन्न वार्डों से प्रतिदिन सफाई के बाद ट्रालियों के माध्यम से फिलहाल कचरा शहर के बाहर न्यास कालोनी के पास डंप किया जाता रहा है। नगर पालिका ने कचरा डंप करने के लिए कई बार शासन से भूमि मांगी थी, लेकिन अब नगर पालिका के प्रयास सफल हो सके हैं। नगर पालिका के स्वच्छता विभाग के अनुसार प्रतिदिन करीब 35-40 ट्राली कचरा शहर के विभिन्न वार्डों से निकलता है जिसे पहले वार्डों में ही स्थित रिक्त भूखंडों पर छोटी गाडिय़ों के माध्यम से एकत्र किया जाता है। इसके बाद ट्रैक्टर-ट्रालियों के माध्यम से न्यास कालोनी के पास डंप किया जाता है।
घर-घर कचरा एकत्रीकरण
नगर पालिका द्वारा घर-घर जाकर कचरा एकत्र करने के लिए दस कचरा वाहन भी संचालित कर रही है। इन वाहनों के माध्यम से लोगों के घर जाकर कचरा लिया जाता है और फिर उसे शहर से बाहर डंप किया जा रहा है। सीमित संसाधनों के बावजूद शहर की सफाई व्यवस्था पहले से बेहतर हुई है, लेकिन माना जा रहा है कि अब जिलवानी में 12 एकड़ भूमि मिल जाने के बाद शहर की सफाई व्यवस्था में आमूल-चूल परिवर्तन दिखाई देने लगेंगे।
विस अध्यक्ष ने किए प्रयास
नगर पालिका ने शासन के पास ठोस अवशिष्ट प्रबंधन के लिए भूमि की मांग करते हुए प्रस्ताव भेजा था। कई दिनों से प्रयासों के बाद अब भूमि मिलने में सफलता मिली है। इसके लिए शासन स्तर पर मप्र विधानसभा के अध्यक्ष डॉ.सीतासरन शर्मा ने प्रयास किए और यह भूमि मिल गई।
इनका कहना है…
ग्राम जिलवानी में नगर पालिका को ठोस अवशिष्ठ प्रबंधन के लिए भूमि का आवंटन हो गया है। अब जल्द ही नगर पालिका यहां यूनिट के लिए काम शुरु करेगी।
सुरेश दुबे, सीएमओ
अब शहर की सफाई व्यवस्था में आमूल-चूल परिवर्तन दिखाई देने लगेगा। अब तक भूमि नहीं होने से सफाई कार्य प्रभावित हो रहा था, क्योंकि शहर से बाहर कचरा ले जाने के लिए हमारे पास स्थान का अभाव था। विधानसभा अध्यक्ष डॉ.सीतासरन शर्मा के प्रयासों से हमें यह भूमि मिली है।
कल्पेश अग्रवाल, विधायक प्रतिनिधि

यह शहर के लिए बड़ी उपलब्धि है। इससे शहर की सफाई व्यवस्था में क्रांतिकारी बदलाव आएंगे। अब शहर में कचरे के ढेर से मुक्ति मिलेगी।
श्रीमती सुधा अग्रवाल, अध्यक्ष नपा परिषद

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW