नये साल में मिल जाएंगे पुलिस कर्मियों का आवास

नये साल में मिल जाएंगे पुलिस कर्मियों का आवास

विधायक डॉ. शर्मा का सपना साकार होने को है
इटारसी। शहर में एमजीएम कालेज के पास और पुलिस थाने के पीछे बन रहे पुलिस क्वार्टर्स संभवत: इस वर्ष के अंत में बनकर तैयार हो जाएंगे। 17.50 करोड़ के इस प्रोजेक्ट में ऐसी कई चीजें हैं जो अब तक शहर की किसी कालोनी में नहीं होंगी। मुख्यमंत्री पुलिस आवास योजना के अंतर्गत बन रहे ये आवास रैन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम के साथ ही सर्वसुविधायुक्त होंगे। अनुमान है कि अगले वर्ष के प्रारंभ में इन आवासों में पुलिस कर्मियों के परिवार गृह प्रवेश कर सकेंगे।
विधायक डॉ सीतासरन शर्मा ने पुलिस परिवारों के लिए अच्छे आवास का जो सपना देखा था वह साकार होने को है। डॉ. शर्मा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से बात कर मुख्यमंत्री पुलिस आवास योजना इटारसी लाए थे। कोरोना के कारण फिलहाल इसका काम पिछड़ा है, लेकिन साल के अंत या नए साल की शुरुआत में गृह प्रवेश हो जाएगा, ऐसी उम्मीद लगायी जा रही है।

यहां इतने आवास
विधायक एवं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डॉ सीतासरन शर्मा ने सिटी थाना और जीआरपी थाने में पदस्थ अधिकारियों व आरक्षकों के परिवारों के लिए अच्छे पुलिस आवास उपलब्ध कराने का जो सपना देखा था वह साकार होने को है। यहां सिटी थाने के पीछे 20 आवास एवं 1 सांस्कृतिक भवन और 3 बेडमिंटन कोर्ट बन रहे हैं। इसके अलावा मॉर्निंग वॉक के लिए पाथवे सहित अन्य जरूरी चीजें इसमें हैं। वहीं एमजीएम कॉलेज के सामने जीआरपी के 96 आवास व 24 अधिकारी आवास बन रहे हैं। दोनों प्रोजेक्ट की लागत 17.50 करोड़ के करीब है। विधायक डॉ सीतासरन शर्मा पिछले कार्यकाल में जब विधानसभा अध्यक्ष थे, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुख्यमंत्री पुलिस आवास की योजना स्वीकृत कराई थी।

वाटर हार्वेस्टिंग अनिवार्य कराया
पुलिस हाउसिंग के अधिकारियों से जब इसकी डिजाइन पर चर्चा हुई तो विधायक डॉ शर्मा ने इसमें रैन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम को अनिवार्य रूप से करने को कहा। पुलिस हाउसिंग के अधिकारियों से साफ कहा कि सिस्टम कागजों में न हो, वे खुद इसकी मॉनीटरिंग करेंगे कि सिस्टम लगा है। पुलिस आवास यहां पहले भी बने थे, लेकिन उनकी हालत दयनीय थी। चारों तरफ दलदल से घिरे आवासों में रहना पुलिस के परिवारों के लिए मुश्किल होता था। शुद्ध पानी नहीं, सड़कें अच्छी नहीं। बरसात में हाल खराब थे। पुलिस परिवार की महिलाओं व बच्चों ने विधायक डॉ शर्मा से संपर्क किया और परेशानी बताई तो उन्होंने हां करने के बाद प्रयास शुरु किये और मेहनत रंग लाई। अब आवास बनकर तैयार होने को है।

ऐसी है योजना
– प्रोजेक्ट 1 : सिटी थाना के पीछे इटारसी, लागत 4 करोड़ 16 लाख 90 हजार रुपए, आवास की संख्या 20, एक कम्युनिटी हॉल 6450 वर्गफीट में। पानी के लिए समवेल 85000 लीटर।
ये होगा आवास में : 1137 वर्गफीट में हॉल, किचिन, वॉस एरिया, बालकनी, 1 मास्टर बेड रूम, 2 बेड रूम।
कम्युनिटी हॉल में क्या : 5000 वर्गफीट का हॉल सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए, प्रथम तल पर 3 बेडमिंटन कोर्ट।
इसके अलावा – मॉर्निंग वॉक के लिए पेयवल ब्लॉक से बना पॉथवे, पौधरोपण, रैन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम।

प्रोजेक्ट 2 : जीआरपी लाइन एमजीएम कालेज के पास, लागत 13 करोड़ 21 लाख रुपए, आवास संख्या 96 आरक्षक निवास, 24 अधिकारी निवास।
आरक्षक आवास में : 710 वर्गफीट वाले आवास में एक हॉल, एक किचिन, बालकनी, वॉस एरिया, 1 टायलेट, 2 बेडरूम।
अधिकारी आवास : 892 वर्गफीट में 1 हॉल, किचिन, बालकनी, 1 कॉमन टायलेट, दो बेडरूम, जिसमें एक बेडरूम मेें अटैच टॉयलेट।
इसके अलावा – पार्क, मॉर्निंग वॉक के लिए पाथवे, चौड़ी सड़कें, पौधे लगेंगे, रैन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम।
कब पूरा होगा – दिसंबर 2020

CATEGORIES
TAGS

AUTHORRohit

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: