न्यूज अपडेट : डाक्टर के यहां घुसकर कर्मचारियों को मारा

डाक्टर दंपत्ति ने नहीं ली शिकायत में रुचि

डाक्टर दंपत्ति ने नहीं ली शिकायत में रुचि
इटारसी। आज सुबह करीब साढ़े 11 बजे तीन युवकों ने देशबंधुपुरा स्थित एक डॉक्टर दंपत्ति के यहां घुसकर उनके कर्मचारियों से मारपीट की। मामला मेडिकल स्टोर संचालक और एक महिला कर्मचारी के बीच पैसों के लेनदेन का बताया जा रहा है। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची लेकिन डाक्टर ने अपने कर्मचारियों के पक्ष में न कोई रुचि ली और ना ही शिकायत दर्ज करायी। अलबत्ता डिस्पेंसरी में मौजूद डाक्टर सुभाष जैन ने तो यहां तक कहा कि मामला मेडिकल स्टोर संचालक और उनके यहां की एक कर्मचारी का है, वे दोनों ही आपस में निपट लेंगे। पुलिस ने दोनों पक्षों को ले जाकर एकदूसरे की शिकायत पर मामला दर्ज किया है। पुलिस ने महिला की शिकायत पर मेडिकल स्टोर संचालक पर धारा 354, 506 और एससी,एसटी एक्ट का प्रकरण दर्ज किया जबकि फरियादी श्रवण चौबे की शिकायत पर युवती के परिजनों पर धारा 155 का प्रकरण पंजीबद्ध किया।
मिली जानकारी के अनुसार सुबह करीब साढ़े 11 बजे तीन युवक बाइक पर आए और आते ही डॉ. सुभाष जैन और डॉ. आभा जैन की देशबंधुपुरा स्थित डिस्पेंसरी में मौजूद कर्मचारियों से मारपीट शुरु कर दी। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार युवकों ने तीन चार कर्मचारियों के साथ ही मेडिकल स्टोर संचालक को भी बुरी तरह से मारा है। करीब पंद्रह से बीस मिनट युवक मारपीट करते रहे। उस दौरान डॉक्टर दंपत्ति वहां मौजूद नहीं थे। सूचना के बाद वे मौके पर पहुंचे तो अवश्य लेकिन उन्होंने घटना में कोई रुचि नहीं ली। मीडिया ने जब डॉक्टर सुभाष जैन से सवाल किया तो उन्होंने कहा कि यह मेडिकल स्टोर संचालक और उनके यहां कार्यरत महिला कर्मचारी के बीच का मामला है, वे आपस में निपट लेंगे। आपको जानकारी चाहिए तो शाम 5 बजे के बाद आओ।
पहले समझौता हुआ,फिर शिकायत हुई
बीच शहर में एक निजी डिस्पेंसरी में इस तरह की घटना को अंजाम देने वाले और पिटने वाले के बीच मामले में समझौता भी हो गया और मारपीट करने वाले बाइक पर बैठकर वहां से रवाना भी हो गए, लेकिन इस बीच किसी की सूचना पर पुलिस पहुंची तो मारपीट करने वालों ने मेडिकल स्टोर संचालक की शिकायत की। पुलिस ने दोनों पक्षों को थाने लेकर आयी और फिर दोनों पक्षों पर मामला दर्ज कर लिया है।
लेनदेन का है मामला
बताया जाता है कि पैसों के लेनदेन पर मेडिकल स्टोर संचालक अविनाश पिता हरिदास चौरे निवासी महर्षिनगर और डिस्पेंसरी में कार्यरत एक महिला कर्मचारी के बीच पैसों के लेनदेन को लेकर विवाद था। हालांकि महिला कर्मचारी का कहना है कि मेडिकल स्टोर संचालक ने उससे अभद्रता की। महिला कर्मचारी ने अपने पति को सूचना दी तो वह दो लड़कों को लेकर आया और फिर कर्मचारियों से मारपीट की है।
 

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW