न तो लिफ्ट लेना न गिफ्ट लेना : पटेल

इटारसी। शासकीय कन्या महाविद्यालय इटारसी में मतदान जागरूकता की कड़ी में आज अंतिम कार्यक्रम के रूप में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। स्वीप अधिकारी डॉ. श्रीराम निवारिया ने कवियों द्वारा कविता प्रस्तुत करने के पहले बताया कि लोकतंत्र के लिए मतदान करना और प्रत्याशियों की जांच-परख करके मतदान करना हमारा अधिकार है तथा जिम्मेदारी भी है। इस अवसर पर कवि बृजकिशोर पटेल ने काव्यपाठ भी किया।
कन्या महाविद्यालय में मतदान जागरुकता कार्यक्रम की अंतिम कड़ी में आज कवि सम्मेलन का आयोजन किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी एवं पूर्व मतदाता जागरूकता दूत बृजकिशोर पटेल थे। कवि सम्मेालन की अध्यक्षता प्राचार्य डॉ. कुमकुम जैन ने की। मुख्य अतिथि का स्वागत डॉ. आरएस मेहरा एवं अध्य्क्ष का स्वागत श्रीमती प्रियंका भट्ट ने किया। कवि बीके पटेल ने अपनी रचनाओं से उपस्थित लोगों का खूब मनोरंजन किया और मतदान का संदेश भी दिया। कवि सम्मेलन में एके पारोचे, मंजरी अवस्थी, डॉ. संजय आर्य, शिरीष परसाई, सोनम शर्मा तथा कैम्पस एम्बेसडर हर्षिता शर्मा भी मौजूद थे। कवि ब्रजकिशोर पटेल ने अपना गीत पढ़ा बहन वोट अपनी सोच-समझ कर देना, न तो लिफ्ट लेना ना गिफ्ट लेना।
गीतकार रामकिशोर नाविक ने अपने गीत में चिंता व्यक्त कर जनता दिगभ्रमित न हों। हम अपनी ही रक्षा करने वालों पर पत्थर फेंककर ठीक नहीं कर रहे हैं। ममता बाजपेयी ने मतदान की जागरूकता पर केन्द्रित गीत पढ़ा। कवि विकास उपाध्याय तथा सतीश पाराशर ने प्रत्याशियों के गैर जिम्मेदाराना कार्यों पर रोक लगाने का संदेश अपनी रचनाओं के माध्यम से दिया। श्रीमती स्वर्णा छेनिया ने प्रेमगीत प्रस्तुत किया। शिरीष परसाई ने अपनी कविता अभिलाषा में चुनाव को भारतीय लोकतंत्र में रंग भरने की संज्ञा दी। प्राचार्य डॉ. जैन ने पहली बार मतदान करने वाली सभी छात्राओं को मतदान करने की सलाह दी एवं अतिथि कवियों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में श्रीमती प्रियंका भट्ट, श्रीमती पूनम राय, सुषमा चौरसिया, महेन्द्रिका मालवीय, कामधेनु पटोदिया तथा बड़ी संख्या में छात्राएं उपस्थित थीं।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW