पहला दौरा : सुरक्षा फोकस, गैस और इंडक्शन चूल्हे देखकर नाराज हुए

इटारसी। गुरुवार को भोपाल रेल मंडल के नए प्रबंधक ने इटारसी रेलवे स्टेशन क्षेत्र का अपना पहला दौरा कर यहां के विभिन्न विभागों में निरीक्षण किया। उनका फोकस इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था पर था। उन्होंने आरआरआई में सेफ्टी अलार्म, खानपान रूम में आगजनी से बचने की व्यवस्था देखी। विभिन्न विभागों में जाकर वहां पदस्थ कर्मचारियों से उनकी परेशानियां भी पूछीं।
डीआरएम उदय बोरवर्णवार ने इटारसी जंक्शन पर अपने पहले निरीक्षण में बुधवार को सेफ्टी पर फोकस किया। हमने एक दिन पूर्व ही यहां की सुरक्षा को लेकर कुछ सवाल उठाए थे। डीआरएम ने आज इसके मद्देनजर रखते हुए प्रमुखता से रेलपथ संचालन के प्रमुख केन्द्र आरआरआई और प्लेटफार्म नंबर एक पर खानपान रूम का निरीक्षण किया। ज्ञात रहे कि इन दोनों स्थानों पर हुई विकराल आगजनी में रेलवे को लाखों रुपए का नुकसान उठाना पड़ा था। इटारसी जंक्शन पर आगजनी को रोकने के लिए रेलवे महत्वपूर्ण कदम उठा रही है। अब स्टेशन पर खानपान रेस्टॉरेंट और स्टाल्स पर चूल्हे नहीं जलेंगे। इस संबंध में नवागत डीआरएम उदय बोरवर्णवार ने बताया कि इस संबंध में अभी नियमों को देखा जा रहा है।

गैंगमेनों से पूछा क्या दिक्कतें हैं
पश्चिम मध्य रेलवे भोपाल मंडल के नवागत डीआरएम का यह पहला इटारसी दौरान था जिसमें उन्होंने यहां मौजूद रेलवे के सभी विभागों में सुबह 9.50 बजे 12976 जयपुर-मैसूर एक्सप्रेस से आने के बाद दौरा किया और दोपहर 3 बजे दक्षिण एक्सप्रेस से विंडो निरीक्षण कर वापस भोपाल लौट गये। इससे पूर्व डीआरएम गुरुवार को सुबह प्लेटफार्म क्रमांक दो-तीन पर उतरे और सबसे पहले वहां मौजूद गैंगमेन यूनिट से कुशलक्षेम पूछी और कार्य में आने वाली दिक्कतों को लेकर जानकारी चाही। इस दौरान गैंगमेनों ने अपनी समस्याओं को बताया। डीआरएम ने उन्हें निराकरण का आश्वासन दिया। इसके पश्चात डीआरएम ने स्टेशन पर सफाई देखी। फूड स्टाल्स और खानपान रूम में चूल्हे तथा इंडक्शन चूल्हे देखकर उन्होंने नाराजी जतायी।
प्लेटफार्म पर देखी व्यवस्थाएं
डीआरएम ने प्लेटफार्म क्रमांक एक पर निरीक्षण कर वहां की व्यवस्थाएं भी देखीं। वे ड्रायवर, गार्ड लॉबी गये तो टीटीई रूम का निरीक्षण। इसके पश्चात अन्य विभागों का निरीक्षण कर आगजनी वाले स्थानों फूड एक्सप्रेस के पूर्व रेस्टॉरेंट को देखा। साथ ही डीआरएम ने बुकिंग कार्यालय और रिजर्वेशन काउंटर पर भी नजर दौड़ाई। इसके बाद टीटीई रनिंग रूम, ड्रायवर, गार्ड रनिंग रूम में भी पहुंचे। यहां मौजूद स्थितियों बारीकी से परीक्षण किया। दोपहर में 1 बजे डीआरएम अपने स्टाफ के साथ नयायार्ड पहुंचे और वहां से निरीक्षण के बाद स्टेशन पर लौटकर आरआरआई का निरीक्षण कर वहां सेफ्टी अलार्म की जानकारी ली। सुरक्षा की दृष्टि से यहां मीडिया को प्रवेश की अनुमति नहीं थी। इस दौरान मौजूद डीआरएम ने मीडिया से चर्चा कर बताया कि यह उनका पहला निरीक्षण है और अभी वे केवल जानकारी ले रहे हैं। जहां सुधार की गुंजाइश है वहा सुझाव दिये हैं।
कर्मचारी संघ ने दिया ज्ञापन
डीआरएम उदय बोरवर्णवार के इटारसी दौरे के दौरान वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ के आरके यादव के साथ भगवती वर्मा, सरताज हुसैन, भूमेश माथुर, संतोष चतुर्वेदी, अभिमन्यु सिंह, अशोक दुबे, पीएल मीना ने डीआरएम से मिलकर कर्मचारियों की समस्याओं का ज्ञापन दिया। डीआरएम ने कर्मचारियों से जुड़ी समस्याओं का शीघ्र निराकरण का आश्वासन दिया। संघ के आरके यादव ने बताया कि डीआरएम से समस्याओं को लेकर सकारात्मक चर्चा हुई है। करीब पांच बजे प्लेटफार्म क्रमांक एक पर आयी दक्षिण एक्सप्रेस में डीआरएम का स्पेशल कोच जोड़ा गया जिसमें वह भोपाल तक के लिए विंडो निरीक्षण करते हुए निकले। उनके साथ स्टेशन अधीक्षक एसके जैन, एसएसई सीएंडडब्ल्यू केसी गुप्ता, आरपीएफ कमांडेंट एसजेए जानी, निरीक्षक एसपी सिंह, सीनियर डीओएम विनोद तमोरी, एसडीसीएम अनुराग पटेरिया, रविन्द्र शर्मा, आदित्य लेघा, किशोरीलाल रणसूरमा, बीएल मीना, अशोक दुबे आदि रेल अधिकारी और कर्मचारी मौजूद थे।

CATEGORIES
TAGS
Share This
error: Content is protected !!