पारदी गिरोह गिरफ्त में, आठ चोरियों का किया खुलासा

पारदी गिरोह गिरफ्त में, आठ चोरियों का किया खुलासा

इटारसी। अनुभाग की पुलिस ने पिछले एक वर्ष के भीतर हुई करीब आठ चोरियों के मामले में सिवनी मालवा के अमलाड़ाकला के रहने वाले पारदियों के सात सदस्यीय गिरोह को गिरफ्तार किया है, पांच आरोपी अभी फरार हैं। इन लोगों से इटारसी, रामपुर, होशंगाबाद और होशंगाबाद की आठ चोरियों का करीब पांच लाख रुपए का माल बरामद हुआ है। ये लोग चोर की वारदात में ज्यादातर अहिंसक तरीका इस्तेमाल करते हैं तथा गिरमिट, लोहे की रॉड, बड़े पेंचकस एवं पेंचिस आदि का इस्तेमाल करते हैं।
एसपी अरविंद सक्सेना ने सिटी पुलिस थाने के बैरक में हुई प्रेसवार्ता में बताया कि सभी सिवनी मालवा ब्लाक के ग्राम अमलाड़ा रोखड़तालर्ठ, सिवनी मालवा के रहने वाले हैं तथा बानापुरा से पैंसेंजर ट्रेन से यहां आकर वारदात करते थे। पुलिस ने इनसे नाला मोहल्ला, साईं फाच्र्यून सिटी, बारह बंगला, केसला, रामपुर, गुर्रा और होशंगाबाद में की गई चोरी की वारदात का माल जब्त किया है।

ऐसे करते थे चोरी
आरोपी बानापुरा से पैसेंजर ट्रेन से इटारसी आते थे। इनके दो ग्रुप होते थे। एक ग्रुप पहले वारदात वाले स्थान की रैकी करता था फिर दूसरे ग्रुप को इसकी जानकारी देकर बानापुरा से बुलाया जाता था। रेलवे स्टेशन पर दोनों ग्रुप मिलते थे और फिर तय जगह पर वारदात करने पैदल ही जाते थे। अक्सर ये लोग रेलवे स्टेशन के आसपास के क्षेत्र में ही वारदात को अंजाम देते थे। रैकी करने वाला ग्रुप सबसे पहले घरों की टोह लेते थे कि कौन सा घर सूना है। इसके लिए वे गुब्बारे का इस्तेमाल करते थे। किसी घर में गुब्बारा फैकते थे, और फिर उसे लेने के लिए बाउंड्री में घुसते थे। यदि कोई प्रतिउत्तर नहीं मिलता था तो माना जाता था कि घर सूना है। इसके बाद चोरी करने वाले ग्रुप को इसकी जानकारी देकर उस घर में वारदात की जाती थी।

पकड़े और फरार आरोपी
पुलिस ने जिन आरोपियों को पकड़ा है, उनमें ग्रुप का मास्टर माइंड रंधिन पिता अइतलाल पारधी 23 साल निवासी अमलाड़ाखुर्द थाना शिवपुर, आनंद पिता अनकलाल पारधी 20 वर्ष अमलाड़ाखुर्द, शेखर पिता ऐवसी पारधी 23 वर्ष अमलाड़ा खुर्द, उमेश उर्फ लाले पिता बागीलाल पारधी 22, अमलाड़ाखुर्द, मानकचंंद पिता स्मेल पारधी 40 वर्ष जो ताले तोडऩे में माहिर है, अखिलेश पिता एवेसीलाल 20 वर्ष अमलाड़ाखुर्द, शर्माजी पिता पीरतलाल पारधी 23 वर्ष अमलाड़ाखुर्द। इनके अलावा जो आरोपी अभी जो फरार हैं उनमें कदम पिता कीरतलाल पारधी, राजेन्द्र पिता नगदीलाल, योगेश पिता राजू पारधी सभी अमलाड़ा खुर्द और अभिषेक पिता बूटासिंह और राजकुमार पिता बूटा सिंह निवासी रोखड़तलाई शामिल हैं, जो फिलहाल कहीं बाहर हैं।

टीम को दस हजार ईनाम
जिला पुलिस अधीक्षक अरविंद सक्सेना ने बताया कि वारदात को ट्रेस करने के लिए तीन टीमें बनायी गई थी। इसमें पूरे अनुभाग की पुलिस को इसके लिए लगाया था। तवानगर, रामपुर, केसला, इटारसी की पुलिस टीम ने आरोपियों को उठाना शुरु किया था। इन्होंने इटारसी की चार, रामपुर की दो, केसला और होशंगाबाद की एक-एक वारदात स्वीकार की है। एसपी ने पूरी टीम के लिए दस हजार का ईनाम देने की घोषणा की है। एसपी ने बताया कि यह कठिन काम था, क्योंकि जो लोग पकड़े गए हैं, वे आसानी से वारदात की स्वीकारोक्ति नहीं करते हैं। ये लोग जो चोरी करते हैं, उनका माल भी ये परिवार के बुजुर्ग या महिलाओं से खपाने का काम कराते हैं। वर्तमान की चोरियों में इन लोगों ने महज 15 फीसदी माल ही बेचा था, शेष इनके पास ही था।

इन चोरियों को माल बरामद
1. नाला मोहल्ला के एक मकान से सोने की दो चेन, सोने की दो जोड़ झुमकी, एक जोड़ चांदी की पैर पट्टी, चांदी की गणेश मूर्ति, चांदी का गुच्छा, चांदी के सिक्के व नगदी।
2. साईं फाच्र्यून सिटी के एक सूने आवास में सेंधमारी करके करीब सात-आठ माह पहले चांदी के बीस नग सिक्के नगदी तथा नगद 15 हजार रुपए की चोरी की थी।
3. करीब आठ माह पहले बारह बंगला क्षेत्र में सरकारी रेलवे आवास से सोने के मंगलसूत्र, चांदी की पैर पट्टी तथा नगद सात हजार रुपए उड़ा ले गए थे।
4. लगभग दो से तीन माह पूर्व केसला के मंदिर के पास स्थित एक मकान में गिरमिट लगाकर सोने के टाप्स, अंगूठी, चांदी का सामान चोरी कर ले गए थे।
5. लगभग छह माह पूर्व ही बारह बंगला क्षेत्र में एक सूने मकान का ताला तोड़कर अलमारी में रखे नगदी व सोने और चांदी के जेवरात चुराकर ले गए थे।
6. ग्राम गुर्रा में करीब एक माह पहले एक घर में पीछे के दरवाजे से गिरमिट लगाकर घर में घुसकर अलमारी को उठाकर ले गए जिसमें सोने-चांदी के जेवर थे।
7. ग्राम रामपुर में रात के समय दीवार फांदकर घुसकर अलमारी में रखे सोने और चांदी के जेवर और नगदी माल उड़ाकर ले गए थे।
8. इसी तरह से करीब एक माह पहले ही होशंगाबाद में भी एक घर में घुसकर सोने और चांदी के जेवर व नगदी पर हाथ साफ कर लिया था।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW