पुलिस ने कहा, मीडिया से बात नहीं करना, आरोपी भाग जाएंगे

डकैती को मामूली चोरी बताने का प्रयास

डकैती को मामूली चोरी बताने का प्रयास
इटारसी। अपनी कमजोरी को छिपाने के लिए इटारसी पुलिस क्या, कुछ कर सकती है, यह आज देखने को मिला। पुलिस थाने में अपने यहां हुई डकैती की फरियाद लेकर आए फरियादी को पुलिस ने कहा कि मीडिया से कोई बात नहीं करना अन्यथा आरोपी भाग जाएंगे। पुलिस ने डकैती को मामूली चोरी भी बताने का न सिर्फ प्रयास किया बल्कि एफआईआर भी ऐसी ही की है। पुलिस मीडिया को थाने से दूर रखने का प्रयास तो हर रोज करती है, शांति समिति की बैठक की सूचना भी अब मीडिया तक नहीं आ रही है।
अब एक नया कारनामा सामने आया है, जुझारपुर रोड पर बेर बाबा के पास एक रिटायर्ड आर्मी मैन और वर्तमान में एफसीआई के सिक्यूरिटी सुपरवाइजर बदामीलाल अहिरवार के घर हुई डकैती में सामने आया। पुलिस अफसर पीडि़तों को बोल आए कि घटना की जानकारी मीडिया और अन्य किसी को भी बताना नहीं, अन्यथा बदमाश सतर्क हो जाएंगे और भाग निकलेंगे। हालांकि पुलिस अफसर इससे इनकार कर रहे हैं।
बदामीलाल अहिरवार के मुताबिक शनिवार-रविवार की दरमियानी रात 2 से 3 बजे उनके घर में किचन में लगी खिड़की की ग्रिल तोड़कर 5 नाकाबपोश हथियारबंद बदमाश घुस आए थे और एक बाहर पहरा दे रहा था। बदमाश शर्ट और चड्ढी पहने हुए थे। 5 बदमाशों ने उनके कमरे में घुसकर उनकी पत्नी चंदा बाई और पुत्र तापिश अहिरवार 4 वर्ष पर चाकू अड़ा दिया और फिर रस्सी से हाथ पांव बांध दिए। इसके बाद आभूषण व नगदी कहां रखा है पूछा। वे घर में रखा 8 से 10 तौला सोना व 80 हजार रुपए नगद अपने साथ ले गए। बदामीलाल ने बताया कि करीब 45 मिनट तक नकाबपोश घर में रहे, जब वे बाहर निकल गए तो छत पर जाकर उनकी पत्नी ने देखा कि 6 लोग भाग रहे हैं। इसके बाद पुलिस को खबर दी। जांच के लिए एसडीओपी अनिल शर्मा, टीआई रामस्नेह चौहान व अन्य पुलिस बल मौके पर पहुंचा था।

CATEGORIES
TAGS
Share This
error: Content is protected !!