प्रदेश मे कोरोना वायरस से संक्रमित कोई मरीज नहीं

प्रदेश मे कोरोना वायरस से संक्रमित कोई मरीज नहीं

स्वास्थ्य संचालनालय की राज्य सर्विलेंस इकाई ने जारी किया बुलेटिन
भोपाल। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट के निर्देशानुसार स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना वायरस पर प्रतिदिन बुलेटिन जारी किया जा रहा है। जारी बुलेटिन में बताया गया कि प्रदेश में कोरोना वायरस का कोई भी मरीज नहीं है। 19 संभावित प्रकरणों में मरीजों के सेम्पल जाँच के लिए पुणे भेजे गये थे। इनमें से 15 सेम्पल की रिपोर्ट नेगेटिव आयी है। शेष 4 प्रकरणों में यात्री अपने देश वापस जा चुके हैं। इंदौर, भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर एयरपोर्ट पर प्रभावित देशों से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही है।
प्रदेश के समस्त मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को नोबल कोरोना वायरस बीमारी की रोकथाम और निगरानी के लिये गाइडलाइन और प्रोटोकॉल भेजे गये हैं। प्रदेश में अभी तक प्रभावित देशों से आने वाले 446 यात्रियों की पहचान की जाकर इनकी जाँच की गयी है। जिनमें से 76 यात्रियों को उनके घरों में आइसोलेशन में रखा गया है। शेष यात्रियों का सर्विलांस पूरा हो चुका है और उन्हें कहीं भी जाने के लिये अनुमति दे दी गयी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा इसे अंतर्राष्ट्रीय महत्व का लोक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित किया गया है। संगठन की रिपोर्ट के अनुसार पूरे विश्व में 90 हजार 870 कोरोना संक्रमण के प्रकरण दर्ज हुए हैं जिनमें 3 हजार 112 लोगों की मृत्यु हुई है। वर्तमान में कोरोना वायरस बीमारी के प्रकरण 72 देशों में दर्ज किये गये हैं। भारत में अब तक 28 नोबल कोरोना वायरस बीमारी के प्रकरण पाए गए हैं।
प्रदेश में सुरक्षा और सावधानी की दृष्टि से स्वास्थ्य विभाग को हाई अलर्ट पर रखा गया है। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण का कोई भी प्रकरण दर्ज नहीं किया गया है। सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में सर्दी, खाँसी और बुखार के मरीजों की अलग से व्यवस्था की गई है। इनकों अन्य मरीजों से अलग रखकर इलाज करने के निर्देश जारी किये गये हैं। सभी जिला अस्पतालों में 2 से 6 बेड और मेडिकल कॉलेजों में 10 बेड के साथ आइसोलेशन वार्ड भी बनाए गए हैं। सभी जिलों में इसके लिये सुरक्षा की दृष्टि से मॉकड्रिल भी की जा चुकी है। संदिग्ध मरीजों के सेम्पल लेने के लिये भी विशेष दल बनाये गये हैं। नोबल कोरोना वायरस बीमारी की जानकारी व मार्गदर्शन हेतु टोल-फ्री नम्बर 104 राज्य स्तर पर क्रियाशील है। राज्य सर्विलेंस इकाई नये दिशा-निर्देशों एवं परामर्शों के लिये सेंट्रल सर्विलेंस इकाई नई दिल्ली के सतत् सम्पर्क में है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW