फैजल मुस्लेमीन कमेटी ने पुलिस को की अंजुमन अध्यक्ष की शिकायत

इटारसी। फैजुल मुस्लेमीन कमेटी और समाज के लोगों ने सोमवार को सुबह पुलिस थाने में टीआई आरएस चौहान को एक ज्ञापन सौंपकर अंजुमन स्कूल में उनको प्रवेश नहीं देने की शिकायत की है। कमेटी के सदस्यों ने अंजुमन नुरूल इस्लाम उर्दू हायर सेकेंड्री स्कूल में अंजुमन कमेटी के अध्यक्ष रूबीन खान द्वारा उनको जानबूझकर प्रवेश नहीं देने का आरोप लगाते हुए कहा कि वहां एक कोचिंग का संचालन कर रहे अखिलेश मिश्रा नामक व्यक्ति ने हमारी झूठी शिकायत की है।
फैजुल मुस्लेमीन कमेटी इटारसी और होशंगाबाद ने अंजुमन कमेटी के सदर पर उनको अंजुमन के परिसर में प्रवेश नहीं देने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। संस्था के सदस्यों ने कहा कि उनकी संस्था मुसलमानों के हित के लिए एवं बच्चों के रिश्तों के लिए समाज में बड़े पैमाने पर परिचय सम्मेलन का कार्य करती है। 13 अक्टूबर को संस्था का परिचय सम्मेलन कामाख्या गार्डन होशंगाबाद है और संस्था का मुख्य कार्यालय अंजुमन स्कूल गांधी मैदान के पास इटारसी में है। संस्था के जिलाध्यक्ष हाजिर हुसैन खान बाबई और उपाध्यक्ष मोहम्मद अथर खान इटारसी, सचिव जहीर खान और इटारसी कमेटी के अध्यक्ष शेख शकील खान हैं। उन्होंने कहा कि उनको उनके आफिस में प्रवेश नहीं करने दिया जा रहा है। यहां एक कोचिंग संचालित की जा रही है। जब कमेटी के सदस्य यहां पहुंचे तो मेन गेट पर ताला था, अध्यक्ष रूबीन खान को फोन लगाया तो उन्होंने अपने भाई का आपरेशन होने की बात कहकर फोन काट दिया और चाबी भी नहीं भेजी। पूरी कमेटी के सदस्य एवं महिलाएं एक घंटे तक बाहर गेट पर खड़े रहे। स्कूल के भीतर तीन व्यक्ति नजर आए। उनको गेट खोलने को कहा तो उन्होंने गाली गलौच करते हुए धमकाया और प्रवेश नहीं करने दिया। उन्होंने बताया कि अंजुमन एक मुस्लिम संस्था है और हम भी समाज की गतिविधि का संचालन करते हैं। हमें रूबीन खान से पूरा लेखा जोखा एवं स्कूल की गतिविधियों के बारे में जानने का हक है। संस्था की जिला उपाध्यक्ष नसीम खान ने कहा कि हम अंजुमन पहुंचे, एक कमरा मांगा। हमें कमरा नहीं देकर ताला लगा दिया और अखिलेश पांडेय नामक व्यक्ति ने गाली गलौच करते हुए हमें धमकाया।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW