बजट से पहले गरीब के खाते में पैसे नहीं आए तो विधानसभा नहीं चलने देंगे : शर्मा

बजट से पहले गरीब के खाते में पैसे नहीं आए तो विधानसभा नहीं चलने देंगे : शर्मा

प्रशासन के खिलाफ आमसभा में गरजे भाजपा नेता
इटारसी। प्रधानमंत्री आवास योजना के जिन गरीब हितग्राहियों को अपात्र किया गया, और पैसे खातों में होने के बावजूद जिनकी किश्त रोकी गई है, उन गरीबों के खाते में बजट सत्र के पूर्व पैसे नहीं आए तो भारतीय जनता पार्टी विधानसभा नहीं चलने देगी। लंगड़ी सरकार है, जरा संभलकर। गरीबों की बद्दुआ लगी तो एक दिन भी सरकार में नहीं रह सकोगे। यह बात प्रदेश की कांग्रेस सरकार को चेतावनी देते हुए भाजपा के हुजूर विधानसभा से विधायक और भारतीय जनता पार्टी के उपाध्यक्ष रामेश्वर शर्मा ने यहां जयस्तंभ चौक पर स्थानीय प्रशासन के खिलाफ आयोजित जनसभा में बतौर मुख्य वक्ता कही।
इस अवसर पर होशंगाबाद की पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष माया नारोलिया, विश्वनाथ सिंघल, सुनील तिवारी, नगर अध्यक्ष डॉ. नीरज जैन, जिला मंत्री कल्पेश अग्रवाल, दीपक हरिनारायण अग्रवाल, पीयूष शर्मा, भाजयुमो जिलाध्यक्ष प्रांशु राणे, नगर अध्यक्ष राहुल चौरे, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष पंकज चौरे, गोविन्द्र श्रीवास्तव सहित अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे। संचालन भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा जिलाध्यक्ष जयकिशोर चौधरी ने और आभार प्रदर्शन डॉ. नीरज जैन ने किया।
आमसभा में संबोधित करते हुए श्री शर्मा ने कहा कि सरकार के आंख और कान प्रशासन होता है। लेकिन, यहां प्रशासन के खिलाफ ही धरना दिया जा रहा था, जो कमलनाथ को उनके आंख और कान नहीं बताएंगे। भोपाल पहुंचकर मैं बताऊंगा। उन्होंने कहा कि गरीब को झोपड़ी से पक्का मकान कांग्रेस के राहुल, प्रियंका या सोनिया गांधी नहीं दे रहे हैं, मोदी सरकार दे रही है। 1200 मकान का पैसा दिल्ली से मोदी ने भेजा है, कमलनाथ जी ये पैसा खा जाओगे। बजट के समय मार्च तक पैसा नहीं दिया तो विधानसभा नहीं चलने दी जायेगी।


अगला चुनाव लड़वा दो
नर्मदा मैया में जब भी बाढ़ आती है, पापियों को बहाकर ले जाती है। भाजपा उपाध्यक्ष ने कहा कि हरेंद्र नारायण को अगला चुनाव लड़वा दो। यहां तो जमानत जब्त हो जाती है। मुगालते में मत रहना अधिकारियों सरकार बनाना जानते, चलाना जानते हैं, गिराना जानते है। लेकिन यह सब जनता के लिए करते हैं। रामेश्वर शर्मा ने कहा कि हमें इंदिरा, नेहरू नहीं तोड़ सके, कमलनाथ क्या तोड़ोगे। उन्होंने उपस्थित जनता से कहा कि मोदी के मकान को कमलनाथ ने रोक रखा है।

बेटी का दहेज मत खाओ
हुजूर विधायक ने मुख्यमंत्री कमलनाथ का नाम लेकर कहा कि सरकार चलाने के लिए पैसा नहीं है तो बेटी का दहेज खाओगेे क्या, बेरोजगारों का बेरोजगारी भत्ता खाओगे क्या? बेटी की मांग भी छीन ली, बुजुर्गों का तीर्थ भी छीन लिया। गरीब की सुनवाई नहीं हो रही, सुनवाई उनकी हो रही जो जनता के हित का काम नहीं कर रहे, जनता को लूटने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि रेत में खाओ, गरीब का मत खाओ। गरीबो के हितों की सरकार नहीं है कमलनाथ की सरकार।

चौपाटी बनना चाहिए
रामेश्वर शर्मा ने कहा कि शहर में चौपाटी बनना चाहिए। जितनी सड़कें, चौपाटी तोडऩी है तोड़ लो, सरकार आएगी तो हरेंद्र के वेतन से सब बनवाई जाएगी। उन्होंने कांग्रेसियों से कहा कि लोकतंत्र में मर्यादा है, हमसे नहीं तो मानक अग्रवाल से, विजय से, सरताज से सीख लो, हमारे टेंट में कांग्रेसियों का डांस अच्छा नहीं है। बीच में जाकर फसाद किया तो अभी तो छोड़ दिया, लेकिन आगे नहीं छोड़ेंगे। कांग्रेसियों को बोले बुद्धि का उपयोग करो। हम तीर, तमंचे से नहीं प्यार से मारते हंै।

गुंडाराज सहन नहीं करेंगे
विधायक डॉ सीतासरन शर्मा ने कहा कि 90 में गुंडों, अधिकारियों और नेताओं का गठजोड़ था, जनता के साथ मिलकर तोड़ दिया। अब फिर वही बन गया है। इन सब का इलाज जनता है। एसडीएम पीएम आवास की किश्तों पर कब्जा करके बैठा है। डीजीपी को चि_ी लिखी है, आंदोलन में बाधाके पीछे एसडीएम का हाथ है। उन्होंने पं. भवानी प्रसाद मिश्र की एक कविता का जिक्र किया, ये 4 कौए, कौन हैं, 4 कौए और चार हउए। नौकर हो गए चील, करुण और बाज।

जेल में जगह कम पड़ेगी
सोहागपुर विधायक विजयपाल सिंह ने कहा कि प्रशासन से हम डरते नहीं हैं। हम थाने और एसडीएम कार्यलय में घुसकर वार्ता करने वाले हंै। हमारे साथ अन्याय होगा, हम अपनी लड़ाई सड़क पर करेंगे। जेल में जगह कम पड़ जाएगी। कांग्रेस के गुंडों पर कार्रवाही नहीं करते, जनहित में धरना देने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं पर कार्रवाही की है। कांग्रेस की स्थायी सरकार नही है कभी भी गिर जाएगी। कांग्रेसियो के कहने पर प्रशासन के बैठे लोग कठपुतली मत बनो।

गरीबों को अपात्र कर दिया
पूर्व विधायक गिरिजाशंकर शर्मा ने कहा, प्रधानमंत्री सबसे नीचे के व्यक्ति के लिए काम करते हंै। पीएम आवास की सूची भोपाल से स्वीकृत होकर आ गई है, लेकिन एक पुरानी पार्टी के दलाल कार्यकर्ता ने शिकायत की और प्रशासन ने गरीबों को अपात्र कर दिया। पीएम आवास की पहली किश्त आ गई थी। लेकिन एसडीएम ने रोक लगा दी। दलालों की दम पर अधिकारी यहां टिके हंै। गरीबों के हित में बैठने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं पर एफआईआर दर्ज की है।

अच्छे कामों से तकलीफ
पूर्व विधायक और भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष हरिशंकर जायसवाल ने कहा कि कांग्रेस को अच्छे कामों से दिक्कत है। गलती से इनकी सरकार बन गयी है, इनको पुराने हर अच्छे कामों से तकलीफ है। उन्होंने कहा कि आवास योजना के हितग्राहियों के लिए संघर्ष कर रहे पार्टी कार्यकर्ताओं पर प्रकरण दर्ज किये गये हैं, प्रकरण उन अफसरों पर बनना चाहिए, जिन्होंने घटना को नहीं रोका। उन्होंने कहा कि पीएम आवास योजना में कांग्रेस की सरकार अड़ंगा डाल रही।

गरीब सब हिसाब लेगा
प्रमोद पगारे ने कहा कि आज पुलिस ने चारों तरफ चाक-चौबंद व्यवस्था की है। 31 जनवरी को पुलिस प्रशासन कहां था? आज आमसभा में बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद है। हम अनुशासन वाली पार्टी के कार्यकर्ता हंै। यहां राजस्व अधिकारी ने तमाशा मचाकर रखा है। इटारसी उस अधिकारी को याद रखता है जो गरीब को छाया देता है। चौपाटी पर डोजर चलाये हैं गरीबो को अपात्र किया है, सब हिसाब लेंगे।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: