बसंत पंचमी एवं विद्यारंभ संस्कार

बसंत पंचमी एवं विद्यारंभ संस्कार

इटारसी। सरस्वती शिशु मंदिर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मालवीयगंज में बसंत पंचमी, विद्यारंभ संस्कार एवं समर्पण महोत्सव मनाया गया।
सरस्वती पूजन के बाद सर्वप्रथम प्राचार्य मुकेश कुमार शुक्ला ने प्रस्तावना में कहा कि 16 संस्कार में से एक विद्यारंभ संस्कार छात्र के जीवन की महत्वपूर्ण आरंभ होता है। इस हेतु विद्या भारती मध्य भारत प्रांत द्वारा समस्त सरस्वती विद्यालयों में बसंत पंचमी पर विद्यारंभ संस्कार का आयोजन किया जिसमें 2 से 5 वर्ष के शिशुओं को अक्षर कॉपी या स्लेट पर ओम लिखवा कर उनका अक्षर ज्ञान प्रारंभ किया जाता है। कार्यक्रम में विद्यारंभ के लिए अक्षर पूजन किया। बड़ी संख्या में उपस्थित शिशुओं ने कागज पर ओम लिखा। इस मौके पर महेश दुबे, राजकुमार पटेरिया, राकेश शुक्ला और योगेश शुक्ला ने हवन कराया और पूर्णाहुति दी। आचार्य आशुतोष परसाई ने समर्पण के महत्व को बताते हुए कहा कि वनवासी क्षेत्रों में संचालित सरस्वती एकल विद्यालयों में पढऩे वाले निर्धन बच्चों शिक्षा व्यवस्था के लिए बसंत पंचमी पर स्वेच्छा से दिया जाने वाला दान समर्पण कहलाता है जो समाज के लोगों से एकत्र कर विद्यालय द्वारा उन एकल विद्यालयों तक पहुंचाया जाता है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: