बस में बैठ कर कहां गए कलेक्टर

बस में बैठ कर कहां गए कलेक्टर

होशंगाबाद। विकास योजनाओ के क्रियान्वयन का जायजा लेने के लिए हर सप्ताह कलेक्टर एक्सप्रेस से अधिकारी गाँव का भ्रमण कर रहे हैं। विशेष बस में कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया तथा जिला स्तर के अधिकारियो ने कलेक्टर एक्सप्रेस से सिवनीमालवा क्षेत्र का भ्रमण किया। कलेक्टर ने मालापाट तथा सोतेचिकली गांव में चौपाल लगाकर आमजनता की समस्याओ का मोके पर निराकरण किया। उन्होंने मालापाट में हायर सेकेण्ड्री स्कूल भवन निर्माण तथा सोतेचिकली में गोरकुण्डा मजरे तक सड़क निर्माण के लिए तत्काल प्रस्ताव बनाने के निर्देश अधिकारियो को दिए। भ्रमण के दौरान कलेक्टर ने गेहूं खरीदी केन्द्र का निरीक्षण कर व्यवस्थाओ का जायजा लिया।
कलेक्टर ने मालापाट ग्राम पंचायत परिसर में आयोजित चौपाल में कहा कि शासन की विकास योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आमजन आगे आएं। शासन की योजनाओ की जानकारी प्राप्त करके उनसे लाभ उठाएं। पात्र हितग्राहियो को शौचालय निर्माण के लिए 12 हजार रूपए की प्रोत्साहन राशि दी जा रही है। हर व्यक्ति अपने घर में शौचालय का निर्माण कराके उसका नियमित उपयोग करें। अपने गांव को खुले में शौच से मुक्त कराएं। खुले में शौच के कारण गांव में गंदगी तथा बीमारी का प्रकोप होता है। गांव के सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक तथा निगरानी समिति के अन्य सदस्य सुबह उठकर निगरानी करे। यदि कोई व्यक्ति उनके घर में शौचालय होने के बाबजूद खुले में शौच जाता है तो उसे समझाईश दें। इसके बाद भी यदि वह शौचालय का उपयोग नही करता तो दंडात्मक कार्यवाही करे। गांव को रोगो से मुक्त कराने के लिए ऐसे लोगो को यदि जेल भी भेजना पडे तो पीछे न हटे।
कलेक्टर ने आम जनता से पेयजल व्यवस्था, पोषण आहार वितरण, शिक्षा व्यवस्था, कृषि विभाग की योजनाओ, पेंशन वितरण तथा मजदूर परिजन की जानकारी ली। दोनो ग्रामो में उन्होंने प्राथमिक तथा माध्यमिक शाला के कई बच्चो से गणित एवं विज्ञान विषय के प्रश्न पूछकर उनके शिक्षा स्तर की जानकारी ली। शिक्षा स्तर संतोषजनक न पाए जाने पर उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी तथा उपस्थित शिक्षको को चेतावनी देते हुए कहा कि दो माह में बच्चो के शिक्षा के स्तर में सुधार करे। यदि समयसीमा में सुधार नही हुआ तो कार्यवाही की जाएगी। चौपाल में कई हितग्राहियो ने बताया कि उनके राशन कार्ड पुराने हो गये हैं लेकिन ग्राम पंचायत सचिव द्वारा उन्हें बदला नही जा रहा है। कलेक्टर ने तहसीलदार तथा जनपद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को दस दिवस में सभी पुराने तथा फटे राशन कार्डो के स्थान पर नये राशन कार्ड प्रदान करने के निर्देश दिए।
चौपाल में ग्रामीणो ने बताया कि दिन में बिजली बंद रहती है। रात में वोल्टेज कम रहने के कारण सिंचाई नही हो पा रही है। कलेक्टर ने कहा कि सभी किसानो को मुख्यमंत्री अनुदान योजना के तहत स्थाई बिजली कनेक्शन दिए जा रहे हैं। इसमें बहुत कम राशि जमा करने पर किसान को कनेक्शन प्राप्त हो जाएगा। इस योजना का लाभ लेने के लिए तत्काल आवेदन करे। उन्होंने कार्यपालन यंत्री विद्युत मंडल को बिजली की आपूर्ति में सुधार के निर्देश दिए। कार्यपालन यंत्री ने बताया कि गेहूं की कटाई के कारण दिन में बिजली की आपूर्ति बंद की गई थी। कटाई लगभग पूरी हो गई है अब दिन में भी बिजली दी जाएगी। चौपाल में कलेक्टर ने महिला बाल विकास अधिकारी को जर्जर आंगनबाड़ी केन्द्र भवन के स्थान पर तीन महिने में नया भवन बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी आंगनबाड़ी केन्द्र भवनो में ग्राम पंचायत के सहयोग से बिजली कनेक्शन तथा पंखे की व्यवस्था करे। चौपाल में उप सरपंच श्री अनिरूद्ध शर्मा ने चार कुपोषित बच्चो को स्वेच्छा से गोद लेने की घोषणा की। इनके अतिरिक्त पोषण की व्यवस्था श्री शर्मा करेंगे।
कलेक्टर ने ग्राम सोतेचिकली में ग्रामीणो से चर्चा करते हुए नामांतरण, बंटवारा तथा सीमांकन की जानकारी ली। उन्होंने तहसीलदार को नामांतरण तथा बंटवारा के सभी प्रकरण तत्काल दर्ज करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि श्रम विभाग की योजनाओ का लाभ देने के लिए सभी पात्र मजदूर ग्राम पंचायत में अपना पंजीयन कराए। इसके लिए श्रम विभाग गांव में एक सप्ताह में शिविर का आयोजन करके पात्र मजदूरो का पंजीयन करे। पात्र मजदूरो को प्रसूति, विवाह, अंत्येष्टी सहित 6 सुविधाएं प्रदान की जा रही है। चौपाल में निराश्रित बालक प्रभू कास्ते ने कहा कि उसके शिक्षा की व्यवस्था नही है। कलेक्टर ने सहायक आयुक्त आदिवासी विकास को प्रभू को कक्षा 9 वी में प्रवेश के साथ हास्टल में नि:शुल्क आवास तथा भोजन की सुविधा देने के निर्देश दिए। चौपाल में दो वृद्ध महिलाओ के वृद्धावस्था के आवेदन पत्र मंजूर किये गये ।
चौपाल में समाजसेवी श्री प्रवीण पाणिक्कर ने कम वजन के 7 बच्चो को गौद लेने की घोषणा की। कलेक्टर ने फूल माला से उनका अभिनंदन किया। उन्होंने कहा कि गांव के अन्य संपन्न व्यक्ति आंगनबाड़ी में दर्ज कुपोषित बच्चो को गौद लेकर उनके पोषण स्तर में सुधार कर सकते हैं। श्री पाणिक्कर ने आंगनबाड़ी केन्द्र को कूलर देने की घोषणा की। चौपाल में कलेक्टर ने कहा कि मजदूरो को रोजगार का अवसर देने के लिए मनरेगा से तत्काल निर्माण कार्य प्रारंभ कराएं। चौपाल में खाद्यान्न वितरण, पेंशन वितरण, छात्रवृत्ति, पेयजल व्यवस्था तथा शासन की उच्च प्राथमिकता की सभी योजनाओ की समीक्षा की गई। कलेक्टर ने चौपाल में तीन बालिकाओ को लाड़ली लक्ष्मी योजना के प्रमाण पत्र प्रदान किये। चौपाल में एसडीएम सिवनीमालवा धीरेन्द्र सिंह, जनपद की मुख्य कार्यपालन अधिकारी रीना चौहान तथा जिला एवं खंड स्तर के सभी
अधिकारी एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW