बिना मैसेज आ रहे किसान, फैलने लगी अव्यवस्था

इटारसी। समर्थन मूल्य पर हो रही गेहूं की खरीदी कार्य में इस वर्ष अव्यवस्थाओं का माहौल अनेक खरीद केन्द्रों पर बना हुआ है। इस कारण से अब बिना मैसेज के किसान बड़ी संख्या में अपनी उपज लेकर खरीदी केन्द्रों में पहुंचने लगे हैं। बड़ी संख्या में किसानों के आने से अब सहकारी समितियां भी परेशान हो रही हैं।
कृषि उपज मंडी इटारसी में फिर एक बार अनाज की ट्रॉलियों की लंबी कतार लग रही है। कारण है खरीदी कार्य का धीमी गति से होना। यहां अपनी उपज लेकर आने वाले किसानो को दो-दो दिन तक रुकना पड़ रहा है तो वहीं अनेकों किसानों के पास मैसेज ही नहीं पहुंच रहे हैं। ऐसे किसानों ने जब शिकायत की तो मंडी बोर्ड ने यह सूचना प्रसारित करा दी कि जिन पंजीकृत किसानों के पास मैसेज नहीं गए हैं वे भी खरीदी केन्द्र पर अपना अनाज ले जाएं। यह सूचना पाते ही इटारसी मंडी सहित सभी खरीदी केन्द्रों पर सैंकड़ों की संख्या में कृषक गेहूं की ट्रालियां लेकर पहुंचने लगे हंै। लेकिन तुलाई छोटे तौल कांटों से से ही हो रही है। ऐसी स्थिति में और ज्यादात अव्यवस्था का माहौल है। इन अव्यवस्थाओं को लेकर एक समिति प्रबंधक राजीव दीवान ने किसानों से अपील की है कि वह अनाज लाने से पहले स्वयं आकर मिल लें और निर्धारित समय प्राप्त कर लें, इससे परेशानी उन्हें भी नहीं होगी और समिति को भी नहीं होगी। बता दें कि शासन ने समर्थन मूल्य पर खरीदी का समय 24 मई तक कर दिया है। लेकिन किसान किसी भी प्रकार की प्राकृतिक आपदा से बचने के लिए जल्दी से जल्दी अपनी उपज बेच लेना चाहते हैं।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW