बुजुर्ग की हत्या का मामले में पुलिस ने खुलासा किया,नाती ने दादा को मौत के घाट उतारा

बुजुर्ग की हत्या का मामले में पुलिस ने खुलासा किया,नाती ने दादा को मौत के घाट उतारा

इटारसी। गत 29,30 जुलाई की दरम्यानी रात में पथरौटा थानांतर्गत ग्राम चीपापूरा में खेत के टप्पर में बुजुर्ग की हत्या के मामले का खुलासा पथरौटा पुलिस ने आज किया है।

खाने की बात पर आरोपी नाती को गाली देने पर नाती में कुल्हाड़ी से हमला कर दादा को मौत के घाट उतार दिया। हत्या की घटना के चार दिन बाद पथरौटा पुलिस ने आरोपी नाती को गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता हासिल की है। घटना की जानकारी मिलते ही एसडीओपी महेन्द्र सिंह चौहान पथरौटा टीआई प्रवीण चौहान पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और मामले को गभीरता से लेते हुये जांच शुरू की। एसपी गुरुकरन सिंह एवं एसडीओपी महेन्द्र सिंह चौहान के कुशल मार्गदर्शन में टीआई प्रवीण चौहान ने मामले की जांच और हत्या के कारणों का पता लगाने में जुट गये। पुलिस को यह नहीं पता था कि आरोपी कोई सगा ही निकलेगा।घटना स्थल से मिले सबूतों को आधार बनाकर पुलिस ने जांच शुरू की। मृतक रततुलाल नागले के नाती को पुलिस ने हिरासत में लिया और पूछताछ की जिसके बाद मृतक का नाती सज्जन सिंह पिता शम्भूलाल नागले पुलिस की पूछताछ में टूट गया और दादा की हत्या करना कबूल किया।

पुलिस को पूछताछ में आरोपी नाती सज्जन सिंह नागले ने बताया कि में दादा को खाना देने खेत गया था। दादा ने खाने की बात पर मुझे गालियां दी।जिसके बाद टप्पर में रखी कुल्हाड़ी से मैंने दादा के सिर पर हमला कर दिया। कुछ समय बाद दादा की मौत हो गई। पुलिस ने आरोपी सज्जन सिंह नागले के बयान में उसके खिलाफ धारा 302 का मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी को कोर्ट में पेश किया जा रहा है।आरोपी को गिरफ्तार करने में एएसआई बट्टी, एएसआई कोमल प्रसाद खेड़ले, प्रधान आरक्षक हेमंत सिंह, आरक्षक कन्हैयालाल गौर,अनिल एवं अनुज का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!