बुद्ध के बताए मार्ग पर चलने का दिया संदेश

बौद्ध महासभा ने कराया वर्षावास समापन कार्यक्रम
इटारसी। रमाबाई महिला मंडल एवं अखिल भारतीय बौद्ध महासभा शाखा नया यार्ड इटारसी के संयुक्त तत्वावधान में बुद्धाब्द 2164 वर्षावास समापन कार्यक्रम भंते नागाभूषण एवं राजाराम बंसोड़े के सानिध्य में किया।
अखिल भारतीय बौद्ध महासभा शाखा नया यार्ड इटारसी के अध्यक्ष रामदास निकम ने बताया कि बौद्ध धर्म के उपदेशों को मानव कल्याण के लिए जन-जन तक पहुंचाने में बौद्ध भिक्षु वर्षभर घूम-घूम कर उनका संदेश पहुंचाते हैं, लेकिन वर्षा काल में बौद्ध भिक्षु एक ही स्थान पर रहकर तथागत गौतम बुद्ध के द्वारा बताए सन्मार्ग पर उपदेश देते हैं। पूरे वर्षाकाल में बौद्ध धर्म के ग्रंथों एवं भारत रत्न डॉ भीमराव अंबेडकर के द्वारा लिखित बुद्ध एवं उनका धम्म का वाचन करते हैं एवं उससे मनुष्य को क्या लाभ प्राप्त होगा, बौद्ध अनुयायियों को अवगत कराते हैं साथ ही बौद्ध उपासक उपासिकायें अपने मन को स्थिर रखने के लिए ध्यान एवं उपवास करते हैं। यह पूरे वर्षाकाल में होता है और वर्षाकाल समाप्त होने के बाद शरद पूर्णिमा पर वर्षावास समापन हर्षोल्लास से मनाते हैं।
इस मौके पर प्रात: 9 बजे धम्म यात्रा निकाली। प्रात:11 बजे परित्राण पाठ दोपहर 2 बजे भंते द्वारा प्रवचन हुए। भंते नागाभूषण ने बताया कि बौद्ध धर्म विश्व के पटल पर अपनी अलग पहचान बना रहा है। अहिंसा एवं मानव को मानव समझने का संदेश पूरे विश्व मे अपनाया जा रहा है कई देश बुद्ध के मार्ग पर चलकर विकसित देशों में शामिल हुए हैं। भंते राजाराम बंसोड़े ने बताया कि मानव को अपना विकास स्वयं करना होगा कर्म पर विश्वास करें कर्म का फल निश्चित ही मानव को विकास के मार्ग पर ले जाता है। रमाबाई महिला मंडल ने पूज्य भंते को चीवर दान दिया।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: