बेघरवार लोगों के लिए 12 राहत शिविर चिह्नित

बेघरवार लोगों के लिए 12 राहत शिविर चिह्नित

शुक्रवार से भेजे जाएंगे शिविरों में
इटारसी। रेलवे स्टेशन सहित खुले आसमान के नीचे गुजर-बसर करने वालों को भी अब प्रशासन ने राहत शिविरों में भेजने की योजना बनायी है। इसके लिए इटारसी अनुविभाग में 12 स्थलों को राहत शिविरों के लिए चिह्नित किया है।
मुख्य नगर पालिका अधिकारी सीपी राय ने बताया कि राहत शिविरों के लिए मैरिज हाल, स्कूल भवनों को चिह्नित किया है। इनमें बेघरवार लोगों को ठहराया जाएगा। शासन के निर्देश हैं कि इनको व्यवस्थित रूप से लॉक डाउन की अवधि में राहत कैंपों में ठहराया जाए, ताकि ये लोग शहर में बेवजह सड़कों पर न घूमें। इटारसी अनुभाग में ऐसे 12 स्थलों का चयन किया है, जिनको राहत शिविरों में तब्दील किया जा सकता है।

शिफ्टिंग से पहले ही भाग गये
प्रशासन ने करीब दो दर्जन ऐसे लोगों को खुले आसमान के नीचे पास-पास रहकर गुजर-बसर कर रहे लोगों को चिह्नित करके रेलवे स्टेशन के पीछे रेलवे मैदान के पास एक स्थान पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए रोका था। इनमें से ज्यादातर लोग वहां से भाग निकले। जो बचे हैं, उनको शुक्रवार को पथरोटा स्थित राहत शिविर में शिफ्ट किया जाएगा। रेलवे स्टेशन परिसर सहित अन्य स्थानों पर खुले में कई खानाबदोश परिवार रहते हैं, इनके लिए ही प्रशासन ने यह व्यवस्था की है।

दो ही हैं सर्वसुविधायुक्त
प्रशासन ने केसला ब्लॉक में जिन 12 स्थलों को राहत शिविर के लिए चिह्नित किया है उनमें से केवल दो ही स्कूलों में सर्वसुविधाएं हैं। शेष दस में पानी की तो व्यवस्था है। लेकिन, बिजली नहीं है। इस गर्मी के दौर में बिना बिजली के लोगों को ठहराया जाना संभव नहीं होगा। सीएमओ सीपी राय ने कहा कि फिलहाल जिन लोगों को भी शिफ्ट किया जाएगा, उन्हीं शिविरों में भेजेंगे जहां बिजली, पानी, शौचालय जैसी सुविधाएं हों। जहां सुविधाएं नहीं हैं वहां सुविधाएं जुटायी जाएंगी।

इन स्थलों को किया चिह्नित
विकासखंड केसला में 12 शिविर स्थलों में से जो दो सर्वसुविधायुक्त शाला भवन चयनित किये हैं उनके केवल हायर सैकंड्री स्कूल पथरोटा और हाई स्कूल सुखतवा ही सर्वसुविधायुक्त हैं। इसके अलावा माध्यमिक और प्राथमिक शाला पथरोटा, माध्यमिक और प्राथमिक शाला कीरतपुर, माध्यमिक और प्राथमिक शाला केसला तथा हायर सैकंड्री स्कूल सुखतवा में पानी के अलावा अन्य सुविधा नहीं है। यदि यहां लोगों को ठहराने की जरूरत पड़ी तो इन स्थलों पर भी सुविधाएं जुटायी जाएंगी।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: