भरपूर उत्पादन के बावजूद किसान कर्ज में जा रहा

बनखेड़ी। भारतीय किसान संघ की तहसील स्तरीय बैठक कृषि उपज मंडी में रखी गई। बैठक में मुख्य रूप से संगठन विस्तार ग्राम कार्यकारिणी के गठन पर चर्चा हुई। बैठक में इस बात पर चिंता व्यक्त की गई कि किसानों द्वारा भरपूर उत्पादन लिए जाने के बावजूद किसान कर्ज में जा रहा है, आत्महत्या जैसे कदम उठाने पर मजबूर है। चर्चा में निर्णय लिया कि मध्यप्रदेश सरकार एवं भारत सरकार से लागत के आधार पर लाभकारी मूल्य तय करने की मांग की जाएगी। बीमा नीति में कई त्रुटियां हैं, जिससे किसानों की फसल नुकसान होने के बावजूद भी क्षतिपूर्ति प्राप्त नहीं होती, किसानों द्वारा जो भी फसल बोई जाए उस फसल का प्रीमियम बैंकों द्वारा काटा जाए, आज की परिस्थितियों में किसान में कोई फसल हुई है, लेकिन अधिसूचित फसल पटवारी हल्का स्तर पर मांग कर अन्य फसल का प्रीमियम काट लिया जाता है, जिससे क्षति होने पर भी किसानों को लाभ नहीं मिलता। बनखेड़ी क्षेत्र के विकास के लिए दूधी नदी पर किसानों को सिंचाई हेतु जलाशय का निर्माण कराया जाए, उससे संबंधित भारतीय किसान संघ द्वारा जिला स्तर पर मांग की जाएगी। बैठक में मुख्य रूप से प्रांतीय कार्यकारिणी सदस्य केशव तिवारी, जिला अध्यक्ष सर्वज्ञ दीवान, जिला मंत्री संतोष पटवारे, जिला कार्यकारिणी सदस्य गोपाल पटेल, जिला कोषाध्यक्ष देवेंद्र पटेल, तहसील अध्यक्ष संदीप कुशवाहा, तहसील मंत्री उत्तम सिंह पटेल एवं संगठन के कार्यकर्ता उपस्थित हुए।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW