भाकिसं ने की सात-सात में शिफ्टिंग की मांग

भाकिसं ने की सात-सात में शिफ्टिंग की मांग

इटारसी। भारतीय किसान संघ ने वर्तमान में 15-15 दिन-रात शिफ्टिंग के विरोध में सोमवार को विद्युत विभाग के डीजीएम कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन किया। संघ के जिला मीडिया प्रभारी रजत दुबे ने बताया कि विद्युत विभाग इस नीति के विरोध में संघ को सड़क पर आना पड़ा।
उन्होंने कहा कि वर्तमान ठंड के मौसम में किसानों को रात के समय सिंचाई करने के लिए बाध्य किया जा रहा है, जो सर्वथा अनुचित है। संभागीय उपाध्यक्ष उदय पांडेय ने बताया कि इटारसी के 2 सब स्टेशन गुर्रा-जमानी के अंतर्गत किसानों के साथ भेदभाव करके 15 दिन के रोस्टर में बिजली प्रदान की जा रही है। किसानों को 7 दिन के रोस्टर में बिजली प्रदान की जाए। जिला मंत्री संतोष पटवारे ने कहा कि किसानों से भेदभाव किया जा रहा है, जिसके विरोध में संघ ने विरोध प्रदर्शन किया है। भारतीय किसान संघ ने धरना प्रदर्शन करके दिन में बिजली प्रदान करने की मांग की और उपमहाप्रबंधक विवेक चावरे को ज्ञापन सौंपा। संघ ने राज्यपाल, मुख्यमंत्री, प्रभारी मंत्री, ऊर्जा मंत्री के नाम ज्ञापन में पूर्व में अनुदान पर मिलने वाले ट्रांसफार्मर उपलब्ध योजना को पुन: प्रारंभ करने, आगामी फसल के लिए निरंतर 12 घंटे बिजली देने की मांग भी शासन से की है।
जिला प्रभारी ओमप्रकाश उपाध्याय ने बिजली विभाग को 3 दिन का वक्त दिया है। डीजीएम विवेक चावरे ने धरना स्थल पर आकर 3 दिन में व्यवस्था सुधारने का वादा किया। धरना प्रदर्शन में भारतीय किसान संघ के तहसील अध्यक्ष श्रीराम दुबे, जिला उपाध्यक्ष मोरसिंह राजपूत, प्रांत सदस्य केशव तिवारी, संभाग उपाध्यक्ष खेमराज पटैल, संभागीय़ मंत्री सूरजबली जाट, देवेन्द्र पटैल, इंद्राज सिंह, सुनील चौहान, रामेश्वर जाट, सुभाष साध, श्यामकिशोर लौवंशी, नरेन्द्र गौर, ललित चौहान आदि कार्यकर्ता एवं किसान उपस्थिति थे।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: