भोपाल में 24 जुलाई से 3 अगस्त तक रहेगा लॉकडाउन (Bhopal Lockdown) 

भोपाल में 24 जुलाई से 3 अगस्त तक रहेगा लॉकडाउन (Bhopal Lockdown) 

सब्जी, दूध, दवाई आदि अतिआवश्यक सेवाएं रहेंगी जारी, उद्योग चालू रहेंगे
भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh chouhan) ने कहा है कि भोपाल (Bhopal) में कोरोना संक्रमण की बढ़ती हुई स्थिति को देखते हुए 24 जुलाई रात्रि 8 बजे से 3 अगस्त तक लॉकडाउन (Lock-down) किये जाने का निर्णय लिया गया है। लॉकडाउन (Lock-down) 04 अगस्त को प्रात: 8 बजे खुलेगा। इस दौरान सब्जी, दूध, दवाई आदि अति आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी। उद्योग चालू रहेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जनता से अपील की कि सभी सतर्कताएं बरती जाएं, जिससे संक्रमण आगे न बढ़े।
मुख्यमंत्री श्री चौहान (CM Shivraj Singh chouhan) मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। भोपाल जिले की समीक्षा में पाया गया कि यहां गत एक सप्ताह की औसत कोरोना पॉजिटिविटी रेट 10.23 प्रतिशत है। बैठक में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र, नगरीय विकास एवं आवास मंत्रीभूपेन्द्र सिंह, चिकित्सा शिक्षा, भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनर्वास मंत्री  विश्वास सारंग, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान आदि उपस्थित थे।

प्रभारी अधिकारी जिलों में कोरोना को कंट्रोल करने के हर संभव प्रयास करें
मुख्यमंत्री श्री चौहान (CM Shivraj Singh chouhan) ने निर्देश दिए कि प्रत्येक जिले के लिए बनाए गए प्रभारी अधिकारी अपने प्रभार के जिलों में कोरोना को कंट्रोल करने के हरसंभव प्रयास करें। वे तुरंत जिलों का दौरा कर वहां की स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप से चर्चा कर कार्रवाई सुनिश्चित करें। साथ ही हर जिले में सर्वोत्तम इलाज उपलब्ध करवाकर, मृत्यु दर को न्यूनतम किया जाए। संक्रमण को प्रभावी ढंग से रोका जाए।

ग्वालियर में स्थिति बेहतर, खुलेगा लॉकडाउन
ग्वालियर जिले की समीक्षा में पाया गया कि लॉकडाउन के चलते गत 7 दिनों से वहां कोरोना संक्रमण की दर 7 प्रतिशत से घटकर 4 प्रतिशत पर आ गई है। क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप ने लॉकडाउन खोलने का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि पूरी सावधानियां बरती जाएं तथा गाइड लाइन का सख्ती से पालन कराया जाए। फोन पर चिकित्सकीय सलाह के लिए टेली मेडीसिन का प्रयोग किया जाए। अन्य राज्यों से आने वाले व्यक्तियों की हैल्थ स्क्रीनिंग की अच्छी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। ग्वालियर में 1083 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके है, 9 मृत्यु है। अभी एक्टिव मरीजों की संख्या 706 है। मृत्यु दर 0.5 प्रतिशत है।

मुरैना टीम द्वारा अच्छा कार्य
मुरैना जिले में अधिक संक्रमण फैलने के बाद जिस तरह प्रभावी नियंत्रण किया गया, उसके लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कलेक्टर सहित पूरी टीम की सराहना की। मुरैना में कोरोना पॉजिटिविटी दर 3.7 प्रतिशत आ गई है। वहां वर्तमान में 312 एक्टिव केसेज हैं, 1081 मरीज स्वस्थ हुए हैं तथा 8 मृत्यु है। मृत्यु दर 0.6 प्रतिशत है।

होम क्वारेंटाइन को प्रभावी बनाएं
मुख्यमंत्री श्री चौहान (CM Shivraj Singh chouhan) ने निर्देश दिए कि संक्रमण रोकने के लिए होम क्वारेंटाइन को प्रभावी बनायी जाए। इसके लिए लोगों को जागरूक किए जाने की आवश्यकता है। होम आयसोलेशन, जिन घरों में व्यवस्था हो, वहां किया जाए। मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने भी होम क्वारेंटाइन को अधिक उपयोगी बताया।

टैस्टिंग  (Corona Testing) बढ़ाई जाए
बड़वानी एवं धार जिले की समीक्षा के दौरान मंत्री  विश्वास सारंग (Vishbas Sarang) ने टैस्टिंग (Corona Testing) बढ़ाने के निर्देश दिए। संक्रमण रोकने के लिए प्रभावी कार्रवाई की जाए। खरगौन जिले की समीक्षा के दौरान संक्रमण रोकने के लिए विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए। रायसेन एवं विदिशा में भी अधिक पॉजिटिविटी दर होने से वहाँ गाइड लाइन्स का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए गए।

छतरपुर सी.एम.एच.ओ. को हटाया जाए
छतरपुर जिले की समीक्षा में पाया गया कि वहां सैम्पलिंग में लापरवाही हुई है। मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सी.एम.एच.ओ. को तत्काल हटाने के निर्देश दिए।

 

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: