मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड का होगा गठन

ट्रेवल एण्ड टूरिज्म के राष्ट्रीय स्तर के संस्था़न की स्थापना होगी पचमढ़ी में पर्यटन केबिनेट में महत्वपूर्ण निर्णय

ट्रेवल एण्ड टूरिज्म के राष्ट्रीय स्तर के संस्था़न की स्थापना होगी
पचमढ़ी में पर्यटन केबिनेट में महत्वपूर्ण निर्णय
प्रदेश/होशंगाबाद। मध्यप्रदेश पर्यटन केबिनेट की बैठक आज मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिहं चौहान की अध्यक्षता में मशहूर पर्यटन-स्थली पचमढ़ी में संपन्न हुई। बैठक में पर्यटन के विस्तार एवं प्रोत्सा‍हन के लिये मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड के गठन का निर्णय लिया गया। पर्यटन विभाग के अंतर्गत एक पृथक संस्था मध्य प्रदेश टूरिज्म बोर्ड का गठन कम्पनी अधिनियम के तहत लाभप्रद कम्पनी के रूप में किया जायेगा।
मध्यपप्रदेश टूरिज्म बोर्ड के मुख्य कार्य, पर्यटन नीति 2016 के सभी दायित्वों का निर्वहन करना, पर्यटन क्षेत्र में निजी निवेश को आकर्षित करना, इन्वेनस्टर्स फेसिलिटेशन, निवेशकों को नीति अनुसार अनुदान एवं सुविधाएँ उपलब्धी करवाना तथा निवेशकों को आकर्षित करने के लिये नई नीतियों का आकल्पन, क्रियान्वनयन एवं मॉनिटरिंग, निजी निवेश से पर्यटन परियोजना की स्थापना को बढ़ावा देने के लिये उपयुक्ता स्थल चयन कर लैण्ड बैंक को निरंतर बढ़ाना, प्रदेश में पर्यटन संबंधी समस्त स्थापन जैसे, पुरातात्विक स्थलों, वन्य -प्राणी स्थलों, प्राकृतिक सौन्दर्ययुक्त गुफाओं, पार्कों, जल क्षेत्रों एवं अन्य मनोरंजक स्थानों के विकास की कार्य-योजनाएँ बनाना और उनके अनुरक्षण के उपाय करना, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तरष पर पर्यटन के प्रोत्साहन से संबंधित विभिन्न आयोजनों में भाग लेकर निजी निवेशकों को प्रोत्सा‍हित करना, मेले, स्थानीय व्यंजन, संस्कृति, वेश-भूषा, हस्त,शिल्प एवं हस्त कला के माध्यम से ग्रामीण पर्यटन को प्रोत्साहित करना और ईको पर्यटन के लिये आवश्यक व्यवस्थाएँ स्थापित करना, आदि होंगे।
बोर्ड के संचालक मंडल के अध्यक्ष मुख्यमंत्री और उपाध्यक्ष पर्यटन मंत्री एवं मुख्य सचिव रहेंगे। वित्त, वन, नगरीय विकास एवं पर्यावरण तथा संस्कृति विभाग के प्रमुख सचिव, संचालक होंगे। संचालक मण्डल के पदेन सदस्य सचिव एवं प्रबंध संचालक, प्रमुख सचिव पर्यटन विभाग होंगे। टूरिज्म प्रमोशन यूनिट, योजना, प्रशिक्षण, ईको टूरिज्म एवं एडवेंचर, रचनात्मवक एवं प्रचार-प्रसार गतिविधियाँ, मार्केटिंग, मेला एवं उत्सव, सूचना प्रौद्योगिकी आदि गतिविधियाँ मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड में सम्पादित होंगी। मध्यप्रदेश राज्य पर्यटन विकास निगम द्वारा पूर्ववत होटलों, रेस्टोरेंट, बोट क्लब, परिवहन बेड़े आदि का संचालन किया जायेगा।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: