मुल्क में अमन चैन की दुआ के लिए उठे हजारों हाथ

इटारसी। मुस्लिमों का सबसे बड़ा त्यौहार ईद-उल-फित्र बुधवार को अकीदत से मनाया गया। इस मौके पर इस्लाम धर्म को मानने वालों ने ईदगाह, मस्जिदों में नमाज अता कर मुल्क में अमन चैन की दुआ मांगी। नमाज के बाद सभी ने एकदूसरे को गले मिलकर ईद की मुबारकवाद दी। बड़ों ने छोटो का उपहार स्वरूप ईदी पेश की। ईद के मौके पर हिन्दुओं ने भी मुसलमान मित्रों को गले मिलकर मुबारकवाद पेश की।
खुशियों का त्यौहार ईद अकीदत से मनाया गया। इस अवसर पर अल सुबह से मुस्लिम समाज के लोग तरोताज़ा होकर सजधजकर अल्लाह की इबादत करने ईदगाह और मस्जिदों में पहुंचे थे।
पहली नमाज नाला मोहल्ला स्थित ईदगाह में हुई। यहां शहरभर के करीब दो हजार नमाजी जमा हुए थे। नूरानी मस्जिद के पेश इमाम ओबेदुल रहमान ने पहले खास नमाज के नियमों से परिचित कराया फिर साढ़े आठ बजे ईद की नमाज अता की गई। पेश इमाम ने बताया कि यह उल्लाह के उन वंदों का पर्व है जिन्होंने रमजान में रोजा रखकर वंदगी की है।
नई ईदगाह नाला मोहल्ला के बाद ईदगाह मस्जिद लक्कडग़ंज एवं ज़ामा मस्जिद पांचवी लाइन में भी ईद की खास नमाज अता की गई। इन सभी जगहों पर मुसलमानों ने एकजुट होकर अल्लाह की वंदगी करते हुए देश की बेहतरी की दुआ मांगी। इसके बाद सभी ने एकदूसरे को मुबारकवाद पेश की।
नमाजी आमिर अंसारी ने बताया कि यह खास दिन हमें बेहतरीन तालीम देकर जाता है। मीठी ईद का यह त्योहार मीठी सेवईयों के साथ करीब एक सप्ताह तक चलेगा और मुस्लिम समाज के लोग एकदूसरे को अपने यहां आमंत्रित कर सेवईयों के साथ ही अन्य मीठा खिलाएंगे।

CATEGORIES
TAGS
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW