युद्ध सामग्री बनाने वाले हाथों ने की नर्मदा की सफाई

इटारसी। जिन हाथों में देश की रक्षा के लिए सामग्री बनाने की जिम्मेदारी है, उन्होंने पावन नर्मदा की रक्षा में भी अपना योगदान दिया है। दुश्मन के दांत खट्टे करने वाले हथियार बनाने वाले हाथों ने आज नर्मदा के कचरे से दो-दो हाथ किए और इसमें जीत भी हासिल की। सुबह करीब 8 बजे से नर्मदा के रेलवे ब्रिज के नीचे आज आर्डनेंस फैक्ट्री के स्टाफ ने जाकर नदी सफाई में अपना योगदान दिया।
स्वच्छ और निर्मल नर्मदा के इस अभियान में अपना साथ देने आर्डनेंस फैक्ट्री के सवा सौ अधिकारी और कर्मचारी खर्राघाट पहुंचे और हिंगलाज मंदिर के तट से सफाई अभियान शुरु किया। इस अभियान में आर्डनेंस फैक्ट्री की पांच कर्मचारी यूनियन के पदाधिकारी और सदस्य भी शामिल हुए हैं। फैक्ट्री के सुभाष पांडेय ने बताया कि नर्मदा को साफ रखना नर्मदा किनारे रहने वालों का फजऱ् है, क्योंकि यह हमारी आस्था का प्रतीक और जीवन रेखा है। इस अभियान में भारतीय प्रतिरक्षा मजदूर संघ, एम्पलाई यूनियन, इंटक, आल इंडिया नॉन गजेटेट, नेशनल डिफेंस अग्रेसिव के सदस्य शामिल हुए हैं।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW