यूनिटी पल्प फैक्ट्री में जांच करने पहुंची एफएसएल टीम

यूनिटी पल्प फैक्ट्री में जांच करने पहुंची एफएसएल टीम

इटारसी। रविवार की शाम को खेड़ा औद्योगिक क्षेत्र में यूनिटी पल्प फैक्ट्री में जोरदार धमाके के साथ लगी आग में एक कर्मचारी बुरी तरह से झुलस गया जिससे उसकी मौत हो गई थी। घटना के वक्त मौके पर पांच कर्मचारी थे जिनमें से चार बच निकले। फैक्ट्री के भीतर केमिकल में लगी आग से सांकरिया पुल के पास रहने वाले संजय श्रीवास्तव 44 वर्ष की मौत हो गई।
रविवार की घटना की सूक्ष्म जांच करने सोमवार को घटनास्थल का एफएसएल और पुलिस टीम ने मुआयना किया। टीम ने उन सभी तथ्यों और साक्ष्यों पर बारीकी से निगाहें गड़ाई जो हादसे के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं। पुलिस ने कर्मचारी की मौत की जांच शुरू की है। सूक्ष्म जांच के लिए एफएसएल अधिकारी डॉ. दीप्ति श्रीवास्तव, टीआई भूपेंद्र सिंह मौर्य के साथ पुलिस टीम फैक्ट्री में पहुंची थी।
केमिकल में विस्फोट की आशंका
यूनिटी पल्प में जहां विस्फोट हुआ था, वहां ड्रमों में केमिकल रखा हुआ था। आशंका जतायी जा रही है कि केमिकल में भी विस्फोट हुआ होगा। घटना के वक्त फैक्ट्री में ड्यूटी पर मौजूद चार अन्य कर्मचारी लक्ष्मीनारायण चौधरी, अनिल सोनी, विष्णु कटारे व चित्रेश चौरे ने पुलिस को बताया जिस जगह विस्फोट हुआ वहां केमिकल रखा था। तेज आवाज के साथ धुआं फैला और आग लग गई। कुछ समझ नहीं आया। हम सभी भागे। घंटे-डेढ़ घंटे बाद पता चला कि संजय श्रीवास्तव बाहर नहीं आया।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW