राहुल के हत्या के आरोपी बंटी को उम्रकैद

इटारसी। करीब साढ़े तीन वर्ष पुराने हत्या के एक मामले में कोर्ट ने आरोपी को उम्रकैद की सजा सुनाई है। आरोपी ने राहुल नामक युवक को जांघ पर चाकू मारकर एक अन्य युवक का नाम लेने का दबाव भी बनाया था। बाद में उपचार के दौरान घायल ने खून अधिक बह जाने से दम तोड़ दिया था। कोर्ट ने आरोपी को आजीवन कारावास से दंडित किया। आरोपी घटना के बाद करीब दस माह बाद आरोपी को गिरफ्तार किया था और तभी से करीब 3 वर्ष 1 माह और 26 दिन से आरोपी जेल में ही है। सजा वारंट से उसे केन्द्रीय जेल होशंगाबाद भेजा गया है।
अपर लोक अभियोजक राजीव शुक्ला ने बताया कि 6 सितंबर 2015 को रात 10 बजे कुम्हार मोहल्ला शंकर मंदिर के पास बंटी कुचबंदिया ने राहुल को बायीं जांघ में चाकू मारकर घायल किया था और गोलू मेहरा के नाम से रिपोर्ट करने को कहा था। ऐसा नहीं करने पर जान से मारने की धमकी दी थी। साथ ही सुनील एवं किशोर नामक युवकों को भी ऐसी ही धमकी दी थी। घायल राहुल ने रात 3 बजे उपचार के दौरान अधिक खून बह जाने से सरकारी अस्पताल में दम तोड़ दिया था। घटना की रिपोर्ट दर्ज होने के बाद आरोपी बंटी को 4 जून 16 को प्रोटेक्शन वारंट से गिरफ्तार किया था। प्रकरण में 12 साक्षियों का परीक्षण किया। कोर्ट ने तथ्यों और परिस्थियों को दृष्टिगत रखते हुए आरोपी महेन्द्र उर्फ बंटी कुचबंदिया को राहुल को चाकू मारकर घातक चोट पहुंचाने और उसके अवयस्क होने का अनुचित लाभ उठाने पर आजीवन कारावास की सजा एवं पांच सौ रुपए का जुर्माना किया। जुर्माना अदा न करने पर चार माह का अतिरिक्त कारावास की सजा सुनाई। आरोपी पर 38 अपराध और भी पंजीबद्ध हैं तथा दो प्रकरणों में जेल में सजा भी भोग रहा है।

CATEGORIES
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW